WhatsApp यूजर्स इस एक सेटिंग्स से बचा सकते हैं अपना डाटा

0
468

नई दिल्ली। WhatsApp का इस्तेमाल देश के करीब 25 करोड़ यूजर्स करते हैं। इस इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल न सिर्फ लोग एक दूसरे के चैट करने या कनेक्ट रहने के लिए करते हैं, बल्कि इस ऐप का इस्तेमाल अब बिजनेस के लिए भी किया जाता है। फेसबुक के स्वामित्व वाले इस ऐप को लोग फेसबुक की तरह ही अपनी बात रखने के लिए करते हैं।

पिछले साल WhatsApp ने कई नए फीचर्स भी जोड़े हैं जिसकी वजह से यह ऐप और भी ज्यादा यूजर फ्रेंडली हो गया हे। आपको बता दें कि WhatsApp का इस्तेमाल करने से पहले अगर हम कुछ सावधानियां बरतें तो आप डाटा लीक्स जैसे अनजान खतरे से बच सकते हैं।

आज हम आपको WhatsApp की एक सेटिंग के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बाद आपको कम से कम चार फायदे मिलेंगे। आपको अपने WhatsApp के मीडिया को कंट्रोल कर सकेंगे। इसके लिए आपको अपने WhatsApp में जाकर ऐप के दाहिने तरफ ऊपर में तीन डॉट्स होंगे उस पर टैप करें। वहां पर आपको सेटिंग्स का ऑप्शन दिखाई देगा।

सेटिंग्स में टैप करने के बाद Data and storage usage पर टैप करें। Data and storage usage पर टैप करने के बाद आपको Media auto-download पर टैप करें और ऑप्शन में जाकर ऑटो डाउनलोड में No Media सिलेक्ट कर लें। ऐसा करते ही आपको कोई भी WhatsApp पर फोटो या वीडियो भेजता है तो वह ऑटोमैटिकली डाउनलोड होगा।

ये मिलेगा फायदा
मोबाइल स्पीड हो सकती है बेहतर : यदि आप WhatsApp की सेटिंग को चेंज करते हैं तो आपके मोबाइल की स्पीड बेहतर हो सकती है। क्योंकि चेंजेस की वजह से आपका मोबाइल क्लीन बना रखेगा। WhatsApp के जरिए आने वाले अनावश्यक वीडीयो और फोटो उसमें सेव नहीं होंगे जिससे मोबाइल अच्छे तरीके से काम कर पाएगा। सेटिंग चेंज न होने की वजह से वीडियो और फोटो मोबाइल में ऑटोमेटिक सेव हो जाते हैं, जिससे मोबाइल की मेमोरी भरने लगती है लिहाजा इसका असर मोबाइल की स्पीड पर पड़ता है।

आपत्तिजनक सामग्री से होता है बचाव
मोबाइल में सेटिंग करने से आप कुछ जरूरी मीटिंग में असहज या शर्मिंदा होने से बच सकते हैं। क्योंकि उस वक्त हो सकता है आपके स्कूल के दिनों के ग्रुप से कोई अश्लील जोक या वीडियो उस वक्त सबके सामने खुल जाए।

अनावश्यक वीडियो नहीं होते हैं सेव
हमारे मोबाइल में अक्सर कुछ आपत्तिजनक या अनावश्यक फोटो और वीडियो आ जाते हैं, जो भारतीय कानून के मुताबिक प्रतिबंधित है। जैसे विभत्स दृश्य, हिसा फैलाने वाले और यौन हिंसा वाले वीडियो। आपको सेटिंग के जरिए यह निश्चित करना है कि इस तरह के वीडियों आपके मोबाइल के इंटरनल स्टोरेज में न पहुंचे।

मोबाइल डाटा नहीं होता है खर्च
मोबाइल में ऑटोमेटिक वीडियो और फोटो के डाउनलोड पर रोक लगाकर आप अपने मोबाइल का कीमती डाटा बचा सकते हैं और उस बचे हुए डाटा का उपयोग किसी बेहतर काम में कर सकते हैं। इसलिए अपने मोबाइल की बेहतर सेटिंग कीजिए और स्मार्ट तरीके से उसको यूज कर उसकी स्पीड को बढ़ाइए।