पब्लिक ट्रांसपोर्ट वीइकल्स में कल से जरूरी होगा VLTs और पैनिक बटन

0
30

नई दिल्ली। मिनिस्ट्री ऑफ रोड, ट्रांसपोर्ट एंड हाईवे ने एक आदेश के मुताबिक 1 जनवरी 2019 से सभी पब्लिक ट्रांसपोर्ट वीकल्स में ‘वीकल लोकेशन ट्रेसिंग डिवाइस’ (VLTs) और पैनिक बटन को अनिवार्य कर दिया गया है। सेंट्रल मोटर वीकल 1989 के नियमों के अंतर्गत आने वाले सभी वाहन में इसका इस्तेमाल अब अनिवार्य होगा।

हालांकि यह आदेश से ऑटो रिक्शा और ई-रिक्शा पर लागू नहीं होगा। इस नियम का पालन सिर्फ उन्हीं वाहनों को करना होगा जिनका रजिस्ट्रेशन 1 जनवरी या उसके बाद किया जाएगा। इस वित्तीय वर्ष की शुरुआत में नए रेगुलेशन AIS140 प्रस्तावित किया गया था। जिसके तहत सभी पब्लिक ट्रांसपोर्ट वीकल्स में ‘वीकल लोकेशन ट्रेसिंग डिवाइस’ (VLTs) और पैनिक बटन को अनिवार्य कर दिया गया।

VLTs और पैनिक बटन से क्या होगा फायदा
AIS 140 स्टैंडर्ड्स खासतौर पर महिलाओं की सुरक्षा के लिए डिजाइन किए गए हैं। इसके अलावा स्टूडेंट्स और अन्य यात्रियों की भी सुरक्षा के लिए इसका इस्तेमाल किया जाएगा। इसके इस्तेमाल से त्वरित मेडिकल सहायता भी ली जा सकेगी।

साथ ही इससे स्पीड पर पर भी नियंत्रण किया जा सकेगा। अकेले यात्रा करने वाले यात्री लोकेशन ट्रेस कर सकेंगे और जान सकेंगे कि जिस वाहन में वे यात्रा कर रहें वह कहां जा रहा है। आपातकास की स्थिति में पैनिक बटन का इस्तेमाल किया जा सकता है।

कौन करेगा कंट्रोल
VLT डिवाइस से लैस वाहन पर राज्य सरकार का नियंत्रण होगा। इसके लिए हर स्टेट में ऑपरेशन सेंटर स्थापित किया जाएगा। पैनिक बटन प्रेस किए जाने पर इंफॉर्मेशन सीधे ऑपरेशन सेंटर पर ट्रांसमिट हो जाएगी। एक्सीडेंट होने की सूरत में इमरजेंसी सर्विस को अपनी लोकेशन समझाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वाहन की लोकेशन सीधे इमरजेंसी सर्विसेज को ट्रांसमिट की जा सकेगी।