सरकार ने खोपरा का MSP 2,170 रुपये प्रति क्विंटल तक बढ़ाया

0
159

नयी दिल्ली। नारियल उत्पादकों को राहत प्रदान करते हुए सरकार ने शुक्रवार को 2018-19 के सत्र के लिए खोपरा का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 2,170 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाकर 9,521-9,920 रुपये प्रति क्विंटल करने की घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में यह फैसला किया गया।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि गोला खोपरा का एमएसपी 2018-19 के सत्र के लिए 2,170 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाकर 9,920 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है। यह पिछले साल 7,750 रुपये प्रति क्विंटल था। इसी तरह मिलिंग खोपरा का एमएसपी 2,010 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाकर 9,521 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है, जो पिछले साल 7,511 रुपये प्रति क्विंटल था।

यह मंजूरी सरकार के मूल्य पर सलाह देने वाले निकाय कृषि लागत एवं मूल्य आयोग (सीएसीपी) की सिफारिशों के आधार पर दी गई है। सीएसीपी उत्पादन की लागत, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में खाद्य तेल कीमतों के रुख, खोपरा और नारियल तेल की कुल मांग और आपूर्ति, खोपरा के प्रसंस्करण की लागत और उपभोक्ताओं पर एमएसपी में वृद्धि के प्रभाव के आधार पर समर्थन मूल्य बढ़ाने की सिफारिश करता है।

भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नाफेड) तथा भारतीय राष्ट्रीय सहकारी उपभोक्ता संघ (एनसीसीएफ) नारियल उत्पादक राज्यों में मूल्य समर्थन परिचालन के लिए केंद्रीय नोडल एजेंसियों की भूमिका निभाती रहेंगी। देश में नारियल के बागान का क्षेत्र 20.82 लाख हेक्टेयर क्षेत्र है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार प्रति हेक्टेयर औसतन 11,505 नारियल का उत्पादन होता है।