देशभर के सरकारी बैंकों में आज हड़ताल, कामकाज ठप

0
36

नई दिल्ली। यदि आप आज कोई बैंक से जुड़ा कार्य करने जा रहे हैं तो थोड़ा ठहर जाएं। आज देशभर के सरकारी बैंकों के  कर्मचारी हड़ताल पर हैं। जिससे कुछ जगहों पर सरकारी बैंकों के ताले भी नहीं खुले हैं, कामकाज पूरी तरह ठप है।  यूनियन फोरम ऑफ बैंक यूनियन के आह्वान पर 21 सरकारी और 9 पुराने निजी बैंकों के करीब 10 लाख कर्मचारी हड़ताल में शामिल हैं।

इसलिए हड़ताल कर रहे हैं बैंक कर्मचारी
सरकारी बैंकों के कर्मचारी पब्लिक सेक्टर के बैंक देना बैंक, विजया बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के विलय का विरोध कर रहे हैं। बैंक कर्मचारियों का कहना है कि सरकारी ने संबंधित पक्षों की राय लिए बिना इन तीन बैंकों के विलय का फैसला ले लिया है।

नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स का कहना है कि बैंकों के विलय का फैसला सभी पक्षों से बातचीत के बाद होना चाहिए। इसके अलावा बैंक कर्मचारी वेतन संबंधी मांग को लेकर भी हड़ताल कर रहे हैं।

इंडियन बैंक्स एसोसिएशन ने 8 फीसदी वेतन बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया है, जिसे कर्मचारी संघों ने मानने से इनकार कर दिया है। बैंक कर्मचारी सातवें वेतन आयोग के अनुसार, वेतन बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं।

6 दिन में केवल एक दिन काम
यह पहला मौका है जब बैंक कर्मचारियों ने एक हफ्ते से भी कम समय में दूसरी बार हड़ताल की है। इससे पहले ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन (एआईबीओसी) से जुड़े कर्मचारियों ने शुक्रवार को हड़ताल की थी। बीते 6 दिनों में बैंकों में केवल एक दिन काम हुआ है।

दरअसल शुक्रवार को हड़ताल के कारण बैंकों का कामकाज ठप था। शनिवार और रविवार को सार्वजनिक अवकाश के कारण बैंक बंद रहे थे। सोमवार को बैंकों में सुचारू रूप से काम हुआ, जबकि मंगलवार को क्रिसमस के कारण बैंकों में सार्वजनिक अवकाश रहा। बुधवार को फिर कर्मचारियों की हड़ताल के कारण बैंकों में कामकाज ठप है।