राजस्थान में भी कांग्रेस ने 2 लाख रु. तक का किसानों का कर्ज माफ किया

0
104

जयपुर। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान में भी कांग्रेस सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने का फैसला लिया है। राजस्थान सरकार किसानों का 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ करेगी। राज्य सरकार पर 18 हजार करोड़ रुपए का भार पड़ेगा। मप्र और छत्तीसगढ़ में सोमवार को ही हुआ था फैसला

भाजपा ने भी दो राज्यों में किसानों को दी राहत
तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद भाजपा शासित गुजरात सरकार ने 6.22 लाख बकाएदारों का 625 करोड़ बिजली बिल और असम सरकार ने आठ लाख किसानों का 600 करोड़ रुपए का कर्ज माफ कर दिया। बिजली बिलों में माफी की घोषणा जसदण विधानसभा सीट पर उपचुनाव से ठीक 48 घंटे पहले की गई। भाजपा ने ओडिशा में सत्ता में आने पर किसानों का कर्ज भी माफ करने का ऐलान किया है। राज्य में 2019 में विधानसभा चुनाव होने हैं।

राहुल ने कहा- गुजरात-असम के मुख्यमंत्रियों को जगाने में हम कामयाब रहे
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट किया कि कांग्रेस गुजरात और असम के मुख्यमंत्रियों को गहरी नींद से जगाने में कामयाब रही है, लेकिन प्रधानमंत्री अभी भी सो रहे हैं। हम उन्हें भी जगाएंगे। वहीं, मंगलवार को राहुल ने संसद भवन परिसर में कहा था- मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में हमारी नई सरकारों को किसानों का कर्ज माफ करने में छह घंटे का वक्त भी नहीं लगा, लेकिन मोदीजी के पास साढ़े चार साल थे।

उन्होंने देश के किसानों का एक रुपया भी माफ नहीं किया। जब तक देश के हर किसान का कर्ज माफ नहीं होता, हम मोदीजी को सोने नहीं देंगे। पूरा विपक्ष मिलकर उनसे किसानों का कर्ज माफ करवाकर रहेगा।’’

वसुंधरा सरकार 8 हजार करोड़ का कर्ज छोड़ गई : गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कर्ज माफी की जानकारी देते हुए बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 10 दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया था। हमने इसे पूरा कर दिया। उन्होंने कहा कि वसुंधरा सरकार ने 2000 करोड़ रुपए तक का कर्ज माफ किया था और 8000 करोड़ का कर्ज छोड़ दिया।

कांग्रेस जो कहती है, करती है : पायलट
कर्ज माफी की घोषणा के बाद उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा-कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा किए गए वादे के अनुसार हमारी सरकार ने किसानों के कर्ज माफ करने की घोषणा कर दी है। कांग्रेस जो कहती है वह करती है।’