राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन? आज हो जाएगा फैसला

0
119

जयपुर। मंगलवार कांग्रेस के लिए मंगलकारी साबित हुआ। राजस्थान में कांग्रेस ने जबरदस्त वापसी करते हुए भाजपा को सत्ता से बाहर कर दिया। कांग्रेस और गठबंधन दल ने बहुमत का जादुई आंकड़ा 100 छू लिया है। 163 सीटों से 73 पर सिमटी भाजपा ने हार स्वीकार कर ली है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राज्यपाल कल्याण सिंह से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप दिया।

‘कांग्रेस मुक्त’ भारत के अभियान पर निकली भाजपा का रथ छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में आकर रुक गया। कांग्रेस ने तीनों ही राज्यों में बढ़त हासिल कर भाजपा को सत्ता से बेदखल कर दिया। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा 15 साल से सत्ता में थी। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने दो तिहाई बहुमत से भी ज्यादा सीटें जीतीं। भाजपा यहां 17 सीटों पर सिमट गई।

2019 के लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल माने जा रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए ये बड़ा झटका है। 2014 में मोदी सरकार के केंद्र में सत्तारूढ़ होने के बाद से यह पहला मौका है, जब कांग्रेस ने भाजपा से सत्ता छीनी है। हालांकि, बिहार और पंजाब में भाजपा मुख्य चेहरा होने के बजाय एनडीए घटक के तौर पर सत्ता में थी। वहीं, दिल्ली और कर्नाटक में भाजपा सत्ता में नहीं थी। लेकिन, मोदी का असर फीका रहा।

आज सरकार का दावा पेश करेगी कांग्रेस
कांग्रेस दल बुधवार शाम को राज्यपाल कल्याण सिंह के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। कांग्रेस दल की ओर से राजभवन में राज्यपाल से मिलने के लिए शाम 7 बजे का समय मांगा गया है।

राहुल को भेजा जाएगा सीएम चेहरे का नाम
बुधवार सुबह कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी। मुख्यमंत्री के नाम पर सहमति होगी। नाम राहुल गांधी को भेजा जाएगा। राहुल की ओर से ग्रीन सिग्नल के बाद नाम का ऐलान किया जाएगा।