स्टेट बैंक का होम और ऑटो लोन हुआ महंगा, लेंडिंग रेट्स बढ़ाईं

1
88

नई दिल्ली। एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) के बाद अब देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपनी मार्जिनल कॉस्ट बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) रेट में बढ़ोतरी कर दी है। एसबीआई ने सभी अवधि के लिए अपने एमसीएलआर में लगभग 0.05 फीसदी का इजाफा कर दिया है। इस क्रम में एसबीआई के होम लोन, ऑटो लोन सहित सभी तरह के लोन महंगे हो गए हैं।

ब्याज दरों में ऐसे हुआ बदलाव
इस प्रकार बैंक की ओवरनाइट और एक महीने की एमसीएलआर 8.15 फीसदी से बढ़कर 8.20 फीसदी हो गई है। वहीं तीन महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर 8.20 फीसदी से बढ़कर 8.25 फीसदी हो गई है। इसी प्रकार 6 महीने की एमसीएलआर 8.35 फीसदी से बढ़कर 8.40 फीसदी हो गई है।

वहीं दो साल और तीन साल के लिए एमसीएलआर अब क्रमशः 8.65 फीसदी और 8.75 फीसदी हो गई है। इससे साफ है कि ऑटो लोन, पर्सनल लोन से लेकर होम लोन सहित सभी तरह के लोन अब महंगे हो जाएंगे। कर्ज में यह बढ़ोतरी 10 दिसंबर से लागू हो गई है।

महंगे हुए सभी तरह के लोन

अवधि मौजूदा एमसीएलआर (% में) संशोधित एमसीएलआर (% में)
1.ओवरनाइट 8.15 8.20
2. एक महीना 8.15 8.20
3. तीन महीना 8.20 8.25
4. छह  महीना 8.35 8.40
5. एक साल 8.50 8.55
6. दो साल 8.60 8.65
6. तीन साल 8.70 8.75

बीपीएलआर और बेस रेट में भी इजाफा
SBI ने MCLR के अलावा बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR) भी 13.75 फीसदी से बढ़ाकर प्रति वर्ष 13.80 फीसदी कर दी है, जबकि बेस रेट 9 फीसदी से बढ़ाकर 9.05 फीसदी कर दी है। यह बढ़ोत्तरी 10 दिसंबर, 2018 से लागू हो गई है।