चौतरफा बिकवाली से सेंसेक्स 714 अंक टूट कर बंद, निफ्टी 10500 से नीचे

0
100

नई दिल्ली। पांच अहम राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के कमजोर प्रदर्शन के अनुमान, खराब ग्लोबल संकेतों और रुपए में कमजोरी के चलते सोमवार को शेयर बाजार में चौतरफा बिकवाली हावी रही। इसके चलते सेंसेक्स 713.53 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 34959.72 पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 205.25 अंक कमजोर होकर 10488.25 पर आ गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) और भारती एयरटेल जैसे हैवीवेट्स में 4 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

इन वजहों से मार्केट में गिरावट
-पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के एक्जिट पोल में केंद्र में शासित बीजेपी की स्थिति कमजोर दिखाई जा रही है।
-इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी और घरेलू स्तर पर डॉलर की तुलना में रुपए के कमजोर पड़ने का असर भी बाजार पर दिख रहा है।
-ओपेक द्वारा कच्चे तेल के उत्पादन में 12 लाख बैरल रोजाना की कटौती की घोषणा के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल करीब एक प्रतिशत चढ़ गया है।

कोटक महिंद्रा का शेयर 6 फीसदी टूटा
कोटक महिंद्रा के शेयर पर प्रेशर खासा बढ़ गया है। दरअसल शेयरहोल्डिंग के मुद्दे पर राहत पाने के लिए प्रमोटर ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। प्राइवेट लेंडर ने बीएसई में दी फाइलिंग में कहा, ‘उसके पास इसके अलावा कोई ऑप्शन नहीं बचा है।’ इस खबर के बाद दोपहर में कोटक महिंद्रा का शेयर लगभग 6 फीसदी टूट गया। हालांकि सेशन के अंत में शेयर 6.56 फीसदी टूटकर 1198 पर क्लोज हुआ।

RIL में 4 फीसदी की बड़ी गिरावट
मार्केट का हैवीवेट शेयर रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) 4 फीसदी की बड़ी गिरावट के साथ खुला और दिन भर उस पर प्रेशर बना रहा। सेशन के अंत में स्टॉक 3.95 फीसदी कमजोर होकर 1088.50 रु पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 50 के दूसरे टॉप लूजर्स में शामिल इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस 4.22 फीसदी, अल्ट्राटेक सीमेंट 3.97 फीसदी, अडानी पोर्ट्स 3.83 फीसदी कमजोर होकर बंद हुआ।

सभी ब्लूचिप स्टॉक्स में गिरावट
आरआईएल के अलावा लगभग सभी ब्लूचिप स्टॉक्स में गिरावट देखने को मिल रही है। निफ्टी 50 में शामिल टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) 1 फीसदी, हिंदुस्तान यूनिलीवर 1.25 फीसदी, आईटीसी 1.61 फीसदी, एचडीएफसी 2.21 फीसदी, इन्फोसिस 2 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक 1.65 फीसदी एलएंडटी 2.29 फीसदी, ओएनजीसी 1.89 फीसदी कमजोर होकर बंद हुए।

निफ्टी के सभी सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट
शेयर बाजार में गिरावट इतनी तगड़ी रही कि निफ्टी के सभी सेक्टोरल इंडेक्स में कमजोरी देखने को मिली। निफ्टी रियल्टी में 3 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई। वहीं बैंकिंग, एफएमसीजी, आईटी इंडेक्स में भी भारी गिरावट रही।