मौद्रिक नीति की घोषणा के बीच बिकवाली से सेंसेक्स 250 अंक टूटा

0
109

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा बुधवार को द्विमासिक मौद्रिक नीति घोषणा के बीच शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। बीएसई का 31 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 249.90 अंक या 0.69 फीसदी की गिरावट के साथ 35,884.41 पर बंद हुआ।

वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 84.55 अंक या 0.74 फीसदी की गिरावट के साथ 10,784.95 पर बंद हुआ। रिजर्व बैंक ने अपेक्षा के अनुरूप रीपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है।

बीएसई की पांच कंपनियों के शेयरों में लिवाली, जबकि 26 कंपनियों के शेयरों में बिकवाली दर्ज की गई। वहीं, एनएसई पर 10 कंपनियों के शेयर हरे निशान में, जबकि 40 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर बंद हुए। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 36,048.65 अंकों का ऊपरी स्तर, तो 35,777.81 अंकों का निचला स्तर छुआ। वहीं, निफ्टी ने 0,821.05 का ऊपरी स्तर, तो 10,747.95 का निचला स्तर छुआ।

बीएसई पर हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में 2.07 फीसदी, एचडीएफसी में 1.75 फीसदी, एचडीएफसी बैंक में 0.51 फीसदी, विप्रो में 0.40 फीसदी, रिलायंस में 0.29 फीसदी तो अडानी पोटर्स में 0.12 फीसदी की तेजी देखी गई।

वहीं, सन फार्मा के शेयरों में 6.59 फीसदी, टाटा स्टील में 4.27 फीसदी, टाटा मोटर्स डीवीआर में 3.85 फीसदी, वेदांता लिमिटेड में 3.74 फीसदी, तो टाटा मोटर्स के शेयरों में 3.70 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

वहीं, एनएसई पर हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में 2.45 फीसदी, एचडीएफसी में 1.60 फीसदी, इंफ्राटेल में 1.24 फीसदी, एचसीएल टेक में 0.95 फीसदी, तो एचडीएफसी बैंक के शेयरों में 0.84 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

वहीं, सन फार्मा के शेयरों में 5.80 फीसदी, हिंडाल्को में 5.19 फीसदी, टाटा स्टील में 4.03 फीसदी, इंडियाबुल हाउजिंग फाइनैंस में 3.94 फीसदी तो वेदांता लिमिटेड के शेयरों में 3.93 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

शेयर बाजार में बुधवार को कारोबार की शुरुआत लाल निशान के साथ हुई। सेंसेक्स 98.66 अंक (0.27%) की गिरावट के साथ 36,035.65 पर खुला, जबकि निफ्टी 49.05 अंक (0.45%) कमजोर होकर 10,820.45 पर खुला।

आरबीआई की छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) ने तीन दिवसीय समीक्षा बैठक में रीपो रेट को 6.5 प्रतिशत पर बरकरार रखने का फैसला किया। रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष में जीडीपी ग्रोथ की दर 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान व्यक्त किया है।