दिल्ली में 39 लॉकर से आयकर विभाग ने जब्त किए 25 करोड़ रुपये

0
82

नई दिल्ली । आयकर विभाग ने दिल्ली के चांदनी चौक में 300 लॉकरों के एक निजी केंद्र की जांच-पड़ताल करने के बाद 25 करोड़ रुपये नकद जब्त किए हैं। आयकर अधिकारी ने सोमवार को बताया कि विभाग की नजर दिवाली से इस केंद्र पर थी। विभाग को इनमें 100 से अधिक लॉकरों में कर चोरी कर नकदी और आभूषण जमा किए जाने का अंदेशा था। अभी तक इनमें से 39 लॉकर खोले जा चुके हैं जिससे 25 करोड़ रुपये की नकदी प्राप्त हुई है।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (CBDT) के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने कहा, ‘आयकर विभाग की जांच में पता चला है कि लॉकर्स का केवाईसी नहीं किया गया था। हमने लॉकर के मालिकों को बुलाया और जो उसमें रखी नकदी के बारे में स्पष्टीकरण नहीं दे सके, हमने उस रकम का जब्त कर लिया है।’ उन्होंने कहा, ‘अभी तक इस मामले में 25 करोड़ रुपये की रकम जब्त की जा चुकी है।’

सूत्रों ने बताया कि इन निजी लॉकरों का परिचालन चांदनी चौक का ही एक व्यापारी कर रहा था। इसके परिचालन के लिए उसने 1992 में भारतीय रिजर्व बैंक से अनुमति प्राप्त की थी। सूत्रों ने बताया कि इस केंद्र में करीब 300 निजी लॉकर थे। इसमें खारी बावली, चांदनी चौक और नया बाजार के व्यापारियों ने अपनी नकदी और आभूषण जमा कराए थे।

उन्होंने कहा कि अधिकारियों को इनमें से 100 से अधिक लॉकरों में कथित तौर पर कर चोरी करके बेहिसाब नकदी और आभूषणों के रखे जाने का अंदेशा था। बाद में इन लॉकरों को एक-एक करके खोला गया। अधिकारी ने बताया कि अभी तक 39 लॉकरों को खोला गया है और इसमें से 25 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की गई है। हालांकि जांच अभी भी जारी है। करीब 100 लॉकरों को और खोला जाना है।