वॉट्सऐप ने RBI से पेमेंट सर्विस शुरू करने की मांगी अनुमति

0
143

नई दिल्ली। वॉट्सऐप भारत में मौजूद अपने 20 करोड़ यूजर्स को पेमेंट सर्विस देना चाहता है और इसके लिए वॉट्सऐप चीफ ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) से अनुमति मांगी है। प्लैटफॉर्म पर फेक न्यूज फैलने के मसले पर सरकार से फटकार सुन चुकी कंपनी पूर्ण रूप से पेमेंट सर्विस शुरू करने के लिए रेग्युलेटरी क्लियरेंस का इंतजार कर रही है।

वॉट्सऐप महीनों से करीब 10 लाख यूजर्स पर इस फीचर को टेस्ट कर रहा है। पेमेंट सर्विस पर करीब 2 साल पहले सरकार से बातचीत शुरू की थी। प्रतिद्वंद्वी गूगल ने भारत में पहले ही पेमेंट सर्विस की शुरुआत कर दी है। अब वॉट्सऐप के चीफ क्रिस डेनियल्स ने RBI को लेटर लिखकर औपचारिक मंजूरी मांगी है।

RBI को लिखे लेटर में क्रिस ने कहा, ‘मैं वॉट्सऐप पर भीम-यूपीआई के जरिए पेमेंट ट्रांजेक्शन सर्विस भारत में सभी यूजर्स तक पहुंचाने के लिए आपसे तुरंत मंजूरी की अपील कर रहा हूं। हमें उपयोगी और सुरक्षित सर्विस के जरिए डिजिटल सशक्तिकरण और वित्तीय समावेशन के द्वारा भारतीय का जीवन बेहतर बनाने का मौका दें।’

5 नवंबर को लिखे लेटर में कहा गया है कि वॉट्सऐप के पार्टनर बैंकों ने भी औपचारिक मंजूरी के लिए अपील की है। वॉट्सऐप के प्रवक्ता ने कहा कि प्लैटफॉर्म भारत सरकार, नैशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) और बैंकों के साथ मिलकर काम कर रहा है।