एसबीआई ने 5 से 10 बेसिस पॉइंट्स बढ़ाईं एफडीआर की ब्याज दरें

0
76

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की आगामी मौद्रिक नीति समीक्षा से एक सप्ताह पहले देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने सावधि जमा यानी फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) की ब्याज दरों में वृद्धि का ऐलान किया है। नई घोषणा के मुताबिक, बैंक अब जमा अवधि के आधार पर ब्याज दरों में 5 से 10 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि हुई है। नई दरें 1 करोड़ रुपये से कम के एफडी पर 28 नवंबर से लागू हो गईं।

इस वृद्धि के बाद एक वर्ष से लेकर दो वर्ष के अंदर तक के एफडी पर अब 10 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि के साथ 6.8 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा जो पहले 6.7 प्रतिशत थी। इसी तरह, 2 से 3 वर्ष तक के एफडी पर 5 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि के साथ 6.80 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा। यह दर पहले 6.75 प्रतिशत थी।

हालांकि, वरिष्ठ नागरिकों को हर अवधि के एफडी पर अब आधा प्रतिशत ज्यादा ब्याज मिलेगा। गौरतलब है कि एसबीआई ने इससे पहले जुलाई महीने में एफडी पर 5 से 10 बेसिस पॉइंट्स की दर से ब्याज बढ़ाए थे।

अवधि 30 जुलाई से  27 नवंबर तक 18 तक28 नवंबर से नई दरें लागू वरिष्ठ नागरिकों के लिए 30 जुलाई से 27 नवंबर तक वरिष्ठ नागरिकों के लिए 28 नवंबर से लागू
7 से 45 दिन5.755.756.256.25
46 से 179 दिन6.256.256.756.75
180 दिन से 210 दिन6.356.356.856.85
211 दिन से लेकर 1 वर्ष से कम6.406.406.906.90
1 वर्ष से लेकर 2 वर्ष से कम6.706.807.207.30
2 वर्ष से लेकर 3 वर्ष से कम6.756.807.257.30
3 वर्ष से लेकर 5 वर्ष से कम6.806.807.307.30
5 वर्ष से 10 वर्ष तक6.856.857.357.35

दरअसल, इस वर्ष सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्रों के बैंकों ने एफडी पर कई बार ब्याज दरें बढ़ाई हैं। इनमें एचडीएफसी बैंक, ऐक्सिस बैंक, पंजाब नैशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, इंडसइंड बैंक आदि शामिल हैं।