दिल्ली बाजार: जीरा वायदा में 380 रुपये की गिरावट, चना वायदा तेज

0
269

नयी दिल्ली। कमजोर घरेलू और निर्यात के बीच मौजूदा स्तर पर सटोरियों की मुनाफावसूली के बाद वायदा कारोबार में गुरुवार को जीरा की कीमत 380 रुपये की भारी गिरावट के साथ 19,310 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई। उधर, हाजिर बाजार में दाल मिलों की मजबूत मांग के कारण सटोरियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में  चना की कीमत 1.48 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,648 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई। 

एनसीडीईएक्स के वायदा कारोबार में जीरा के नवंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 380 रुपये अथवा 1.93 प्रतिशत की हानि के साथ 19,310 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई जिसमें 75 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

इसी प्रकार जीरा के दिसंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 215 रुपये अथवा 1.03 प्रतिशत की हानि के साथ 19,780 रुपये प्रति क्विन्टल रह गई जिसमें 5,517 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि मौजूदा स्तर पर सटोरियों की मुनाफावसूली के अलावा बाजार में पर्याप्त स्टॉक होने के मुकाबले हाजिर बाजार में मांग में गिरावट के कारण वायदा कारोबार में जीरा के भाव प्रभावित हुए।

हाजिर बाजार में दाल मिलों की मजबूत मांग के कारण एनसीडीईएक्स में चना के नवंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 68 रुपये अथवा 1.48 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,648 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 2,970 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

इसी प्रकार चना के दिसंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 19 रुपये अथवा 0.42 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,575 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 39,750 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि चना वायदा भाव में तेजी आने का श्रेय हाजिर बाजार की मजबूत मांग के कारोबारियों द्वारा अपने सौदों के आकार बढ़ाने को जाता है।

सरसों वायदा में तेजी: हाजिर बाजार की मजबूत धारणा के बीच कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने से वायदा कारोबार मेंसरसों बीज की कीमत 0.24 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,183 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई।

बाजार सूत्रों ने सरसों बीज वायदा भाव में तेजी आने का श्रेय हाजिर बाजार में उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के बीच तेल मिलों की मांग में आई तेजी को दिया। एनसीडीईएक्स में सरसों बीज के दिसंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 10 रुपये अथवा 0.24 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,183 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 46,790 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

बाजार सूत्रों का कहना है कि सरसों बीज के जनवरी 2019 महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत दो रुपये अथवा 0.05 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,220 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 5,060 लॉट के लिए कारोबार हुआ।