सेंसेक्स 346 अंक गिरकर 34813 पर बंद, निफ्टी 10500 से नीचे

0
85

नई दिल्ली। ऑटो और पीएसयू की अगुआई में ज्यादातर इंडेक्स में बिकवाली के चलते सेंसेक्स 345.56 अंकों की गिरावट के साथ 34,813 और निफ्टी 103 अंकों कमजोर होकर 10,482 पर बंद हुआ। हालांकि रुपए में कमोजोरी के चलते सिर्फ आईटी इंडेक्स हरे निशान में बंद हुआ। क्रूड में मजबूती के चलते एचपीसीएल, आईओसी सहित ऑयल मार्केटिंग कंपनियों के स्टॉक्स में 7 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई।

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयर भी गिरे
लार्जकैप के साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी गिरावट देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.83 फीसदी गिरा, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 0.94 फीसदी टूटा है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.93 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट
दिग्गज शेयरों की बात करें तो एचपीसीएल में 7.17 फीसदी, टाटा मोटर्स में 4.58 फीसदी, आईओसी में 4.55 फीसदी, हीरो मोटोकॉर्प में 4.15 फीसदी, हिंडाल्को में 4.06 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा मारुति सुजुकी, भारती इन्फ्राटेल, आयशर मोटर्स भी भारी गिरावट वाले स्टॉक्स में शामिल रहे।

क्रूड ऑयल में उछाल
एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करंसी) अनुज गुप्ता का कहना है कि सऊदी अरब दिसंबर से तेल एक्सपोर्ट में 5 लाख बैरल प्रति दिन की कटौती करेगा। लिहाजा सप्लाई घटने की खबरों से क्रूड कीमतों में तेजी देखने को मिली है।

उत्पादन घटाने पर ओपेक देश और रूस सहमत हो गए हैं। माना जा रहा है कि अगले साल से उत्पादन घट सकता है। फिलहाल ब्रेंट क्रूड 1.3 फीसदी की उछाल के साथ 71.11 डॉलर पर कारोबार कर रहा है। वहीं नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई क्रूड 0.9 फीसदी की तेजी के साथ 60.73 डॉलर पर कारोबार कर रहा है।