प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का अनावरण

0
188

अहमदाबाद। आज देश के पूर्व गृहमंत्री और लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती है। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने देश को सरदार पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा “स्टैच्यू ऑफ यूनिटी” सौंप दी है। प्रधानमंत्री ने एक लीवर खींच कर इस प्रतिमा का अनावरण किया। इसके बाद वायुसेना के विमान फ्लाय पास्ट करते हुए प्रतिमा के ऊपर से तिरंगा बनाते हुए गुजरे।

खास बात ये है कि ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के अनावरण के लिए देशभर की 30 छोटी-बड़ी नदियों का जल लाया गया था, जिसमें गंगा, यमुना, सरस्वती, सिंधु, कावेरी, नर्मदा, ताप्ती, गोदावरी और ब्रह्मपुत्र आदि शामिल हैं। पीएम मोदी ने इन्हीं 30 नदियों के जल से प्रतिमा के पास स्थित शिवलिंग का अभिषेक किया। इस दौरान 30 ब्राह्मणों ने मंत्रों का जाप भी किया। 

पटेल प्रतिमा के अनावरण से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने यहां बनी खूबसूरत फूलों की घाटी का दौरा किया और उसका उद्घाटन किया। इसके बाद उन्होंने यहां बनी टेंट सिटी का भी अनावरण किया। टेंट सिटी में प्रतिमा देखने आए पर्यटक रुक सकेंगे।

आम जनता के लिए यह एक नवंबर से
आम जनता के लिए यह एक नवंबर से खुलेगी। ऑनलाइन टिकट बुकिंग शनिवार से शुरू हो गई है। प्रति व्यक्ति 150 से 380 रुपए का टिकट रखा गया है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने सरदार पटेल को उनकी जयंती पर याद करते हुए ट्वीट कर लिखा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा हम सरदार वल्लभभाई पटेल को उनकी जयंती पर नमन करते हैं। उन्होंने देश को एक किया और सच्चे मन से देश सेवा की।

यह है खासियतें
182 मीटर ऊंची प्रतिमा के 135 मीटर तक याने प्रतिमा के ह्रदय स्थल पर बनी व्यूइंग गैलरी से नर्मदा बांध को निहार सकेंगे। यहीं से नजर आएगी 35 हजार वर्ग मीटर क्षेत्र में फैले सौ से अधिक प्रजाति के फूलों से बनी वैली ऑफ फ्लावर।

सोमनाथ, द्वारका, रण ऑफ कच्छ, सासण गीर, पोरबंदर गांधीजी के जनम स्थल व अहमदाबाद के रिवरफ्रंट के बाद गुजरात के पर्यटन स्थलों की सूची में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का नाम भी जुड गया है। पर्वतमालाओं के बीच हरी भरी वादियों के साथ खडी सरदार की भव्य प्रतिमा 8 किलोमीटर दूर से नजर आ जाएगी।

खास आकर्षण

  • प्रतिमा के पास की 17 किमी लंबी वैली ऑफ फ्लावर तैयार की गई है। यहां दुनिया के विविध फूलों की किस्म के साथ नमो फूल भी देखे जा सकेंगे।
  • पर्यटकों के लिए एक टेंट सिटी और सरदार पटेल को समर्पित एक म्यूजियम भी बनाया गया है।
  • 55 मंजिला (करीब 600 फीट) प्रतिमा के हृदयस्थल 153 मीटर की ऊंचाई तक लोग लिफ्ट से पहुंचकर वहां से 138 मीटर ऊंचे सरदार सरोवर बांध को देख सकेंगे।
  • प्रतिमा के सामने विजिटर गैलरी भी बनाई गई है, जहां से एक साथ 200 लोग प्रतिमा को निहार सकेंगे।
  • युवाओं के लिए यहां सेल्फी पॉइंट बनाए गए हैं।
  • सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय एकता ट्रस्ट जल्द ही एक ऐप भी जारी करेगा, इसके माध्यम से भी टिकट बुक किया जा सकेगा।