चौतरफा बिकवाली से सेंसेक्स 341 अंक लुढ़ककर 33,349 पर बंद

0
68

नई दिल्ली। लगातार दूसरे दिन घरेलू शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली। कमजोर ग्लोबल संकेतों और रुपए में कमजोरी से शुक्रवार को शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव भरा कारोबार हावी रहा। कारोबार के आखिरी घंटे में चौतरफा बिकवाली की वजह से सेंसेक्स 341 अंक लुढ़ककर 33,349 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 95 अंक फिसलकर 10,030 के स्तर पर बंद हुआ।

यस बैंक में 9 फीसदी की गिरावट रही। हालांकि टाटा मोटर्स (2.09%), RIL (1.41%), HDFC (0.69%) में तेजी रही। निफ्टी पर सेक्टोरल इंडेक्स में सभी 11 इंडेक्स लाल निशान में रहे।

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयर भी गिरे
लार्जकैप के साथ-साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली दिखी। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.11 फीसदी गिरकर 13,870.15 के स्तर पर बंद हुआ जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.12 फीसदी की कमजोरी रही। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.04 फीसदी हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ।

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट
कारोबार के दौरान दिग्गज शेयरों में टाटा मोटर्स, RIL, बजाज ऑटो, भारती एयरटेल, टाटा स्टील, एचडीएफसी, हीरो मोटोकॉर्प और विप्रो में बढ़त रही। वहीं यस बैंक, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, टीसीएस, कोटक बैंक, ओएनजीसी, इंफोसिस, आईटीसी, एचयूएल, आईसीआईसीआई बैंक, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, एमएंडएम, एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, एलएंडटी, मारुति गिरे।

निफ्टी पर 11 में 9 इंडेक्स में गिरावट
एनएसई पर सेक्टोरल इंडेक्स में 11 में से 9 इंडेक्स लाल निशान में है। सबसे ज्यादा गिरावट निफ्टी मेटल इंडेक्स में 1.43 फीसदी दर्ज की गई है। बैंक निफ्टी 0.77 फीसदी टूटा है।

इसके अलावा ऑटो इंडेक्स 0.53%, फाइनेंशियल सर्विसेज 0.73%, एफएमसीजी 0.58%, आईटी इंडेक्स 0.84%, मीडिया इंडेक्स 0.98%, प्राइवेट बैंक इंडेक्स 1.04% और रियल्टी इंडेक्स 0.85% कमजोर हुआ है। हालांकि निफ्टी फार्मा इंडेक्स 0.19 फीसदी और पीएसयू बैंक इंडेक्स 0.12% की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।

निफ्टी में 10100-9950 का सपोर्ट
इंडिया निवेश रिसर्च के सीनियर टेक्निकल एनालिस्ट- इक्विटी मेहुल कोठारी का कहना है कि ग्लोबल सेलऑफ की वजह से मार्केट में दबाव है। वहीं अगले हफ्ते एफएंडओ एक्सपायरी के चलते आगे मार्केट के वोलेटाइल रहने की संभावना है। एक से तीन महीने के नजरिए से मार्केट पॉजिटिव है। इसलिए गिरावट में खरीददारी की सलाह होगी।

अमेरिकी बाजार मजबूत होकर बंद
गुरुवार को अमेरिकी बाजारों में जोरदार तेजी देखने को मिली। गुरुवार के कारोबार में डाओ जोंस 401 अंक चढ़कर 24,985 के स्तर पर बंद हुआ। नैस्डैक 210 अंक की मजबूती के साथ 7,318 के स्तर पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 49 अंक की उछाल के साथ 2,706 के बंद हुआ।

ITC का प्रॉफिट 12% बढ़कर 2955 करोड़ हुआ
फाइनेंशियल ईयर 2019 की दूसरी तिमाही में FMCG की बड़ी कंपनी आईटीसी (ITC) का नेट प्रॉफिट 12 फीसदी बढ़कर 2954.67 करोड़ रुपए हुआ। वहीं पिछले साल समान अवधि में कंपनी को 2,639.84 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था। जबकि पिछली तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 2,818.68 करोड़ रुपए रहा था।

RBI के फैसले से उज्जीवन, इक्विटास का शेयर 40% तक टूटा
स्मॉल फाइनेंस बैंक उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (Ujjivan Financial Services) और इक्विटास होल्डिंग्स लिमिटेड (Equitas Holdings) का शेयर शुक्रवार को 40 फीसदी तक टूट गया।

दरअसल, रिजर्व बैंक (RBI) ने दोनों से अपने स्मॉल फाइनेंस बैंक की अलग लिस्टिंग करने को कहा है। RBI के इस फैसले से कारोबार के दौरान इक्विटास होल्डिंग का शेयर 40 फीसदी जबकि उज्जीवन फाइनेंशियल सर्विसेज का शेयर 24 फीसदी गिर गया। शेयर में गिरावट से दोनों कंपनियों के निवेशकों को 2400 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ।

Q2 नतीजे के बाद भारती एयरटेल का शेयर 3.4% बढ़ा
टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल (Bharti Airtel) के सितंबर तिमाही के नतीजे के बाद शुक्रवार को शेयर में 3 फीसदी से ज्यादा की तेजी दर्ज की गई। सितंबर, 2018 में समाप्त तिमाही के दौरान भारती एयरटेल का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट 65 फीसदी घटकर 118.80 करोड़ रुपए रहा। कारोबार के दौरान शेयर 3.4 फीसदी चढ़कर 305.95 रुपए के हाई पर पहुंच गया।

Q3 में अमेजन का सेल्स बढ़कर 56.6 अरब डॉलर
ऑनलाइन रिटेलर अमेजन डॉट कॉम का तीसरी तिमाही में नेट सेल्स 29 फीसदी बढ़कर 56.6 अरब डॉलर रहा। पिछले साल समान अवधि में कंपनी का सेल्स 43.7 अरब डॉलर रहा था। वहीं इस दौरान आय 34.7 करोड़ डॉलर से बढ़कर 3.7 अरब डॉलर रही।

सितंबर तिमाही के नतीजे के बाद रेमंड में तेजी
मुंबई बेस्ड टेक्सटाइल मेकर रेमंड का शेयर 8.34 फीसदी चढ़कर 670 रुपए के भाव पर पहुंच गया। सितंबर तिमाही में कंपनी के बेहतर नतीजे से शेयर में तेजी आई। फाइनेंशियल ईयर 2019 की दूसरी तिमाही में रेमंड का रेवेन्यू 16 फीसदी बढ़कर 1,848 करोड़ रुपए रहा।

वहीं नेट प्रॉफिट 5 फीसदी उछलकर 63 करोड़ रुपए रहा। Ebitda 35 फीसदी बढ़कर 186 करोड़ रुपए और मार्जिन 8.6 फीसदी के मुकाबले 10.1 फीसदी रहा।