सोना 6 साल के उच्चतम स्तर पर, जानिए क्या रहे भाव

0
113

नई दिल्ली/ कोटा सोने (gold) की कीमतें गुरुवार को 125 रुपए की बढ़ोतरी के साथ 32625 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर पहुंच गईं, जो उसका 6 साल का उच्चतम स्तर है। माना जा रहा है कि ग्लोबल ट्रेंड में मजबूती और रुपए में कमजोरी के बीच लोकल ज्वैलर्स की तरफ से फेस्टिव और वेडिंग सीजन की डिमांड से सोने में लगातार तेजी देखने को मिल रही है।

हालांकि चांदी में कमजोरी बरकरार है और इंडस्ट्रियल यूनिट्स की तरफ से डिमांड में सुस्ती से इसकी कीमत 130 रुपए की गिरावट के साथ 39,600 रुपए प्रति किग्रा रह गईं।बुलियन ट्रेडर्स ने कहा कि ओवरसीज मार्केट में सोने में मजबूती का ट्रेंड बना हुआ है, जहां डॉलर में नरमी और इक्विटीज में गिरावट से यह तीन महीने के हाई पर पहुंच गया।

इसके अलावा लोकल करंसी में कमजोरी से भी इन्वेस्टर्स का सेंटीमेंट इसके प्रति मजबूत हुआ है। ग्लोबल मार्केट की बात करें तो सिंगापुर में गुरुवार को सोने के भाव 1234.20 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर पहुंच गए।

ज्वैलर्स ने बढ़ाई हाजिर बाजार में खरीद
ट्रेडर्स के मुताबिक, सीजनल डिमांड पूरी करने के लिए लोकल ज्वैलर्स ने घरेलू हाजिर बाजार में खरीद बढ़ा दी। इसके अलावा शेयर बाजार में गिरावट के चलते सोना निवेश के अच्छे ऑप्शन के तौर पर नजर आ रहा है।

6 साल में सबसे महंगा सोना
राजधानी में 99.99 फीसदी और 99.50 फीसदी प्योरिटी वाले सोने की कीमतें 125 रुपए बढ़कर क्रमशः 32,625 रुपए और 32,475 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर पहुंच गईं।

सोने का यह स्तर 29 नवंबर, 2012 के बाद का उच्चतम स्तर है, जब कीमत 32940 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर पहुंच गई थीं। यह लगातार तीसरा सेशन है जब सोने की कीमतों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 23 अक्टूबर के बाद से अब तक सोना 405 रुपए महंगा हो चुका है।

कोटा सर्राफा
चाँदी 39300  रुपये प्रति किलोग्राम। 
सोना केटबरी 32400 रुपये प्रति दस ग्राम, सोना 37800 रुपये प्रति टोला। 
सोना शुद्ध 32550 रुपये प्रति दस ग्राम, सोना 37970 रुपये प्रति टोला।