हाजिर बाजार में तेल मिलों की मांग से सरसों वायदा कीमतों में तेजी

0
212

नयी दिल्ली। हाजिर बाजार में मजबूती के रुख के बीच मौजूदा स्तर पर व्यापारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को सरसों की कीमत 18 रुपये की तेजी के साथ 4,157 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई।

बाजार सूत्रों के अनुसार उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के बीच तेल मिलों की मांग में तेजी के कारण हाजिर बाजार में मजबूती के रुख को देखते हुए कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली से यहां सरसों की कीमतों में तेजी आई।

एनसीडीईएक्स में सरसों के सर्वाधिक कारोबार वाले नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 18 रुपये अथवा 0.43 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,157 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 62,050 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

इसी प्रकार सरसों के दिसंबर डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 15 रुपये अथवा 0.36 प्रतिशत की तेजी के साथ 4,210 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई जिसमें 2,500 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

रिफाइंड सोया तेल कीमत में 0.25 प्रतिशत की तेजी
हाजिर बाजार में घरेलू मांग में तेजी आने तथा उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के बीच कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करने के कारण शुक्रवार को वायदा कारोबार में रिफाइंड सोयातेल की कीमत 0.25 प्रतिशत की तेजी के साथ 755.90 रुपये प्रति 10 किग्रा हो गई।

एनसीडीईएक्स में रिफाइंड सोयातेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 1.90 रुपये अथवा 0.25 प्रतिशत की तेजी के साथ 755.90 रुपये प्रति 10 किग्रा हो गई जिसमें 35,530 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

इसी प्रकार रिफाइंड सोयातेल के दिसंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 1.70 रुपये अथवा 0.22 प्रतिशत की तेजी के साथ 762.50 रुपये प्रति 10 किग्रा हो गई जिसमें 10,390 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

बाजार विश्लेषकों ने कहा कि उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के मुकाबले हाजिर बाजार की मांग में तेजी के बाद व्यापारियों के ताजा सौदों की लिवाली से मुख्यत: यहां वायदा कारोबार में रिफाइंड सोयातेल कीमतों में तेजी आई।

मेंथा तेल के वायदा कीमतों में गिरावट जारी
नयी दिल्ली मेंथा तेल के वायदा कीमत में गिरावट का रुख जारी रहा। हाजिर बाजार में उपभोक्ता उद्योगों की कमजोर मांग के बीच सटोरियों ने अपने जमा सौदों के आकार को कम किया जिससे शुक्रवार को वायदा कारोबार में मेंथा तेल की कीमत में 1.25 प्रतिशत की हानि दर्ज हुई।

इसके अलावा उत्पादक क्षेत्रों से निरंतर आपूर्ति के कारण पर्याप्त स्टॉक होने के कारण भी मेंथा तेल की कीमतों में गिरावट आई।एमसीएक्स में मेंथा तेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 22 रुपये अथवा 1.25 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,732.90 रुपये प्रति किग्रा हो गई जिसमें 440 लॉट के लिए कारोबार हुआ।