आम्रपाली के सीएमडी समेत तीन निदेशक गिरफ्तार, जेल भेजा

0
39

नई दिल्ली। आम्रपाली समूह के खिलाफ नियमित सुनवाई कर रहे सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सीएमडी समेत तीन निदेशकों को जेल भेज दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली समूह के सीएमडी अनिल शर्मा, निदेशक शिव प्रिया और एक अन्य निदेशक अजय कुमार को जेल भेज दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने तीनों को कोर्ट से ही तत्काल गिरफ्तार करा दिया।

मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट आम्रपाली समूह में हुई वित्तीय अनियमितताओं की फॉरेंसिक जांच करा रहा है। इसके लिए बिल्डर को ऑडिटर्स को संबंधित दस्तावेज सौंपने थे। बिल्डर की तरफ से दस्तावेज सौंपने में लगातार आनाकानी की जा रही थी। मंगलवार को मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली समूह को चेतावनी देते हुए सख्त लहजे में कहा कि वह SC से लुकाछिपी का खेल न खेलें।

सुप्रीम कोर्ट ने बिल्डर की तरफ से कोर्ट में पेश वकील से सख्त लहजे में पूछा कि अब तक उन्होंने ऑडिटरों को फॉरेंसिक ऑडिट से संबंधित दस्तावेज क्यों उपलब्ध नहीं कराए। मालूम हो कि आम्रपाली समूह सुप्रीम कोर्ट को लगातार गुमराह करने का प्रयास कर रहा था। इससे नाराज होकर सुप्रीम कोर्ट पहले ही आम्रपाली समूह के सीएमडी अनिल शर्मा समेत अन्य निदेशकों को जेल भेजने की चेतावनी दे चुका था।

सुप्रीम कोर्ट पहुंची नोएडा पुलिस
सुप्रीम कोर्ट में आम्रपाली समूह के निदेशकों की गिरफ्तारी के बाद नोएडा पुलिस तीनों को अपनी कस्टडी में लेने के लिए रवाना हो चुकी है। नोएडा की थाना सेक्टर-39 पुलिस तीनों निदेशकों को सुप्रीम कोर्ट से अपनी कस्टडी में लेगी। इसके बाद नोएडा पुलिस ही तीनों आरोपी निदेशकों को जेल भेजेगी।

मालूम हो कि आम्रपाली ग्रुप की ज्यादातर परियोजनाएं दिल्ली से सटे यूपी के जिला गौतमबुद्धनगर अंतर्गत नोएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में हैं। यहीं वजह है कि आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ नोएडा के थाना सेक्टर-39 समेत जिले के कई थानों में अलग-अलग रिपोर्ट दर्ज है या शिकायतें लंबित हैं। यही वजह है कि नोएडा पुलिस तीनों निदेशकों को सुप्रीम कोर्ट से अपनी कस्टडी में ले रही है।