समर्थन मूल्य पर मूंग एवं उड़द की खरीद अक्टूबर मध्य से

0
171

जयपुर। सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने बताया कि प्रदेश में अक्टूबर माह के मध्य से समर्थन मूल्य पर मूंग एवं उड़द की खरीद प्रारम्भ हो जाएगी। इसके लिये ऑनलाईन पंजीकरण 3 अक्टूबर से शुरू किया चुका है। पंजीकरण के अभाव में किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीद संभव नहीं होगी।

उन्होेंने बताया कि केन्द्र सरकार ने मूंग एवं उड़द खरीद के लिये अनुमति प्रदान कर दी है तथा मूंग का 2.39 लाख मीट्रिक टन तथा उड़द का 88 हजार 375 मीट्रिक टन खरीद लक्ष्य राज्य सरकार को दिया है।  प्रारम्भ में मूंग एवं उड़द की खरीद समर्थन मूल्य पर की जा रही है।

किसानों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसके लिए गतवर्ष की भांति ऑनलाईन पंजीकरण की व्यवस्था ई-मित्र एवं खरीद केन्द्रों पर प्रातः 10 बजे से सायं 7 बजे तक की गई है। ई-मित्र से पंजीकरण कराने पर किसान को 21 रुपये तथा समिति के खरीद केन्द्र पर पंजीकरण कराने के लिए किसान को 10 रुपये का भुगतान करना होगा।

उन्होंने बताया कि पंजीकरण के दौरान भामाशाह कार्ड नम्बर, खसरा गिरदावरी एवं बैंक पासबुक देनी होगी। भामाशाह कार्ड नहीं होने की स्थिति में ई-मित्र पर तत्काल ही भामाशाह के लिए एनरोलमेंट किया जाएगा एवं एनरोलमेंट नम्बर से ऑनलाईन पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो सकेगी।

सहकारिता मंत्री ने बताया कि खरीद के दौरान कई बार पंजीकरण से जुड़ी अव्यवस्थाओं की वजह से किसान को परेशानी का सामना करना पड़ता था, इसके लिये हमने पूर्व वर्ष की भांति ऑनलाईन पंजीकरण की व्यवस्था लागू की है। जिससे किसान किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने बताया कि प्रदेश में मूंग के लिए 130 एवं उड़द के लिए 58 खरीद केन्द्र चिह्वित किए गए हैं।

किलक ने बताया कि वर्ष 2018-19 के लिए मूंग के लिए 6975 रुपये एवं उड़द के लिए 5600 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य बोनस के साथ घोषित किया है। उन्होंने बताया कि किसानों को अपनी उपज बेचने में किसी प्रकार की परेशानी न हो इसके लिए खरीद केन्द्रों पर आवश्यकतानुसार तौल-कांटें लगाये जायेंगे एवं पर्याप्त मात्रा में बारदाना उपलब्ध कराया जाएगा।