बैंकिंग, IT शेयर में तेजी से सेंसेक्स 299 अंक उछला, निफ्टी 11000 पार बंद

0
23

मुंबई।  बैंकिंग और IT में तेजी की वजह से सोमवार को घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। सेंसेक्स 299 अंक चढ़कर 36,526 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 78 अंकों की उछाल के साथ 11,008 के स्तर पर क्लोज हुआ। NSE पर सेक्टोरल इंडेक्स में सिर्फ रियल्टी में गिरावट रही। हैवीवेट शेयरों HDFC, TCS, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, ICICI बैंक, यस बैंक में बढ़त से बाजार को सपोर्ट मिला। BSE पर 1000 से ज्यादा स्टॉक्स बढ़े।

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट
कारोबार के दौरान दिग्गज शेयरों में यस बैंक, TCS, ICICI बैंक, इंफोसिस, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, एचयूएल, एसबीआई, इंफोसिस, मारुति, सन फार्मा, ओएनजीसी आईटी बढ़े। वहीं भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, कोटक बैंक, एलएंडटी, एमएंडएम और एशियन पेंट्स गिरे।

मिडकैप शेयरों में तेजी, स्मॉलकैप गिरा
लार्जकैप के साथ मिडकैप शेयरों में भी खरीददारी दिखी। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.53 फीसदी की उछाल के साथ 14840.74 के स्तर पर बंद हुआ जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.76 फीसदी की बढ़त रही। हालांकि बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 14395.23 के स्तर पर बंद हुआ।

NSE पर 11 में से 10 इंडेक्स चढ़े
एनएसई पर सेक्टोरल इंडेक्स में शामिल 11 में से 10 इंडेक्स में तेजी रही। सबसे ज्यादा तेजी निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स में 3.63 फीसदी दर्ज की गई। बैंक निफ्टी 0.98 फीसदी चढ़कर 25,367 के स्तर पर बंद हुआ।

इसके अलावा ऑटो इंडेक्स 0.72%, फाइनेंशियल सर्विसेज इंडेक्स 1.22%, एफएमसीजी इंडेक्स 0.56%, आईटी इंडेक्स 2.37%, मेटल इंडेक्स 1.23%, फार्मा इंडेक्स 0.62% तक बढ़े। वहीं निफ्टी रियल्टी इंडेक्स 1.50 फीसदी टूटकर बंद हुआ।

600 से ज्यादा शेयर 52 हफ्ते के लो लेवल
बाजार में कमजोरी से सोमवार को NSE पर 600 से ज्यादा शेयर 52 हफ्ते के लो लेवप पर पहुंच गए। इनमें आयशर मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प, मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, एशियन होटल्स शामिल है। रुपए में कमजोरी, क्रूड की कीमतों में उचाल और आरबीआई की पॉलिसी बैठक पर अनिश्चितता से बाजार में गिरावट है।

Infibeam का शेयर 46 फीसदी टूटा
शुक्रवार के कारोबार में 70 फीसदी टूटने के बाद सोमवार को Infibeam के शेयर में 46 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। बीएसई पर शेयर 46 फीसदी टूटकर 38.40 रुपए के निचले स्तर पर फिसल गया, जो 52 हफ्ते के नया लो लेवल है।

इसका कारण रहा वह वॉट्सऐप मेसेज जिसने ट्रेडर्स में कंपनी के अकाउंटिंग प्रैक्टिस को लेकर शंका पैदा कर दी। हालांकि बाद में निचले स्तर से शेयर में रिकवरी आई है। फिलहाल शेयर 11.14 फीसदी की बढ़त के साथ 65.35 रुपए के भाव पर कारोबार कर रहा है।