सेंसेक्स 347 अंक बढ़कर 36,652 के स्तर पर बंद , निफ्टी 11060 के पार

0
44

नई दिल्ली। मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार में लगातार पांच दिनों से जारी गिरावट पर ब्रेक लग गया। बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर में खरीददारी से बाजार में तेजी लौटी। जिससे कारोबार के अंत में सेंसेक्स 347 अंक की बढ़त के साथ 36,652 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 100 अंक की उछाल के साथ 11,067 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी पर सिर्फ रियल्टी इंडेक्स में गिरावट रही। ‌BSE पर 1050 से ज्यादा शेयर बढ़े।

इससे रुपए में कमजोरी, क्रूड की बढ़मी कीमतों और ट्रेड वार से शेयर बाजार में निवेशक सतर्क दिखे। जिससे शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 241 प्वाइंट्स टूट गया था जबकि निफ्टी 85 अंक फिसल गया था।

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट
कारोबार के दौरान दिग्गज शेयरों में यस बैंक, ओएनजीसी, सन फार्मा, एशियन पेंट्स, कोल इंडिया, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंफोसिस, टाटा मोटर्स, एचडीएफसी बढ़े हैं। हालांकि ICICI बैंक, भारती एयरटेल, एमएंडएम, आईटीसी, कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक, टीसीएस, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, मारुति, एबसीआई, एचयूएल, विप्रो गिरे हैं।

मिडकैप और स्मॉलकैप भी लुढ़के
लार्जकैप के साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में बिकवाली देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 1.29 फीसदी गिरा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 1.47 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 1.62 फीसदी लुढ़का है।

IT-फार्मा इंडेक्स में तेजी, बैंक, रियल्टी-मेटल गिरे
सेक्टोरल इंडेक्स में निफ्टी पर आईटी और फार्मा को छोड़ सभी लाल निशान में कारोबार कर रहा है। बैंक निफ्टी 0.72 फीसदी टूटकर 24,790 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। ऑटो में 0.79 फीसदी, फाइनेंशियल सर्विसेज में 0.70 फीसदी, एफएमसीजी में 0.76 फीसदी, मेटल में 0.72 फीसदी, पीएसयू बैंक में 0.95 फीसदी, प्राइवेट बैंक में 0.79 फीसदी और रियल्टी में 1.53 फीसदी की गिरावट है। हालांकि निफ्टी आईटी इंडेक्स 0.69 फीसदी और फार्मा 0.75 फीसदी बढ़ा है।

5 दिन में 8.5 लाख करोड़ का नुकसान
शेयर बाजारों में गिरावट से निवेशकों को पिछले पांच कारोबारी सत्रों में 8.47 लाख करोड़ रुपए की चपत लगी है। पिछले सप्ताह की शुरुआत के बाद से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स करीब 5 फीसदी टूट चुका है। कुल मिलाकर पिछले पांच कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स 1,785.62 अंक गिरा है। बाजार में तेज गिरावट के कारण बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 8,47,974.15 करोड़ रुपए घटकर 1,47,89,045 करोड़ रुपए रह गया।

GTL, GTL इंफ्रा 5 फीसदी तक टूटा
GTL और GTL इंफ्रा का शेयर मंगलवार को 5 फीसदी तक टूट गया। कैनरा बैंक ने दोनों लिस्टेड कंपनियों को इन्सॉल्वेंसी कार्रवाई के लिए कदम बढ़ाई है। बैंकरप्सी का एक्शन शुरू होने से कारोबार के दौरान GTL का शेयर 2.73 फीसदी गिरकर 5.71 रुपए के लो पर आ गया। वहीं GTL इंफ्रा का शेयर 5 फीसदी टूटकर 1.35 रुपए पर लुढ़क गया।