बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 280 अंक टूटा, निफ्टी 11,140 के करीब बंद

0
104

नई दिल्ली। बैंकिंग और फाइनेंशियल शेयरों में हुई भारी बिकवाली के दबाव में शुक्रवार को सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 1495 अंक टूटने के बाद कारोबार के अंत में 280 अंक गिरकर 36,842 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 91 अंक की गिरावट के साथ 11,143 के स्तर पर बंद हुआ।

दोपहर को सेंसेक्स 1,127.58 अंक टूटकर 35,993.64 अंक पर और निफ्टी 367.90 अंक की गिरावट में 10,866.45 अंक पर आ गया। हालांकि शेयर बाजार में इसके बाद बिकवाली का दौर थमा। बाजार की गिरावट में यस बैंक का 169.34 प्वाइंट्स का योगदान रहा।

सेंसेक्स अचानक करीब 1500 प्वाइंट्स टूटा
शेयर बाजार में शुक्रवार को उस समय हड़कंप मच गया, जब सेंसेक्स ने अचानक 1500 प्वाइंट्स का गोता लगा दिया। राहत की बात यह रही कि बाजार जितनी तेजी से गिरा, उतनी ही तेजी से उसने रिकवरी भी कर डाली। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 1495 प्वाइंट्स गिरकर 35993.64 और निफ्टी 480.35 प्वाइंट्स के स्तर पर आ गया। निवेशकों में नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों को लेकर खबर फैली कि ये कंपनियां नकदी के संकट में फंस सकती हैं। इससे बाजार में बिकवाली बढ़ गई।

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट
कारोबार के दौरान दिग्गज शेयरों में ONGC, विप्रो, आईटीसी, टीसीएस, एशियन पेंट्स, एमएंडएम, पावरग्रिड, हीरो मोटोकॉर्प, भारती एयरटेल, टाटा स्टील, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी बढ़े। हालांकि यस बैंक, कोटक बैंक, अडानी पोर्ट्स, इंडसइंड बैंक, मारुति, इंफोसिस, सन फार्मा, एचयूएल, एक्सिस बैंक, टाटा मोटर्स, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, बजाज ऑटो, वेदांता गिरे।

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयर भी गिरे
लार्जकैप के साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी गिरावट देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 1.72 फीसदी गिरा जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स में 2.49 फीसदी की गिरावट रही। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 3 फीसदी टूटा।

निफ्टी पर सभी इंडेक्स लाल निशान में बंद
बाजार में चौतरफा बिकवाली से निफ्टी पर सभी इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरावट निफ्टी रियल्टी इंडेक्स में 3.51 फीसदी और प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 3.45 फीसदी दर्ज की गई। बैंक निफ्टी 2.59 फीसदी गिरकर 25,596.90 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं बैंक ऑटो में 1.14 फीसदी, फाइनेंशियल सर्विसेज में 1.04 फीसदी, आईटी में 1.43 फीसदी, मेटल में 0.50 फीसदी, फार्मा में 1.96 फीसदी, पीएसयू बैंक में 1.64 फीसदी कमजोरी रही।

DHFL का शेयर 50% से ज्यादा टूटा
DHFL के शेयर में 50 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ अन्य हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के शेयर टूटने सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 1495 प्वाइंट्स टूटकर 35993.64 के स्तर पर लुढ़क गया। वहीं निफ्टी ऊपरी स्तर से 480.35 प्वाइंट्स गिरकर 10,866.45 के स्तर पर आ गया।

जेट एयरवेज का शेयर 5.5% टूटा
जेट एयरवेज के शेयर में शुक्रवार को 5.5% गिरावट आई। गुरुवार को जेट की मुंबई-जयपुर फ्लाइट में क्रू स्टाफ केबिन प्रेशर स्विच स्विच ऑन करना भूल गया। इससे कई यात्रिकों के कान और नाक से खून बहने लगा। डीजीसीए मामले की जांच कर रहा है। एक यात्री ने जेट से 30 लाख रुपए का हर्जाना मांगा है।

क्रिसिल ने मुथूट होमफिन इंडिया की क्रेडिट रेंटिंग अप्रेड किया
रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने मुथूट होमफिन इंडिया लिमिटेड (MHIL) के टर्म लोन, कामकाजी पूंजी डिमांड लोन और प्रस्तावित दीर्घकालिक बैंक सुविधा की रेंटिंग को क्रिसिल एए-/ स्टेबल से क्रिसिल एए/ स्टेबल के रूप में अपग्रेड किया है।

यस बैंक 34 फीसदी टूटा, RBI ने सीईओ राणा कपूर का कार्यकाल घटाया
देश का पांचवां बड़ा प्राइवेट बैंक यस बैंक का शेयर 34 फीसदी टूट गया है। RBI ने यस बैंक के CEO राणा कपूर का कार्यकाल घटाकर 31 जनवरी 2019 कर दिया है। इस खबर से कारोबार के दौरान बीएसई पर यस बैंक का शेयर 34 फीसदी टूटकर 210.10 रुपए के भाव पर लुढ़क गया, जो 52 हफ्ते का नया लो लेवल है।

रुपया 52 पैसे की मजबूती के साथ खुला
शुक्रवार को रुपए की शुरुआत बढ़त के साथ हुई। डॉलर के मुकाबले रुपया 52 पैसे की मजबूती के साथ 71.85 के स्तर पर खुला। इससे पहले बुधवार को भी रुपए में शानदार रिकवरी आई थी और रुपया 61 पैसे की बढ़त के साथ 72.37 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं मंगलवार को रुपया अब तक के अपने सबसे निचले स्तर पर बंद हुआ था। डॉलर के मुकाबले रुपया 47 पैसे टूटकर 72.98 के स्तर पर बंद हुआ था।