राजस्थान में सस्ता होगा पेट्रोल- डीजल, राजे ने घटाया 4% वैट

0
283

2.50 रुपए से 3 रुपए तेल के दाम कम हो जाएंगे, नई दरें रविवार रात 12 बजे से लागू

नई दिल्ली/जयपुर। राजस्थान सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर मूल्य वर्धित कर (VAT) को चार-चार प्रतिशत कम करने की घोषणा की है। इससे राज्य में पेट्रोल और डीजल ढाई रुपये प्रति लीटर तक सस्ता होगा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपनी राजस्थान गौरव यात्रा के तहत हनुमानगढ़ के रावतसर कस्बे में एक सभा में पेट्रोलियम ईंधन सस्ता करने वाले इस निर्णय की घोषणा की।

इसके तहत राज्य में वैट पेट्रोल पर 30 से घटाकर 26 प्रतिशत और डीजल पर 22 से घटाकर 18 प्रतिशत किया गया है। पेट्रोल-डीजल की नई दरें रविवार रात 12 बजे से पूरे प्रदेश में लागू हो जाएगी। नई दरों में 4 प्रतिशत कम होने के साथ करीब 2.50 रुपए से 3 रुपए तेल के दाम कम हो जाएंगे।

आपको बता दें कि रविवार को पेट्रो की कीमत 83 रुपए 26 पैसे प्रति लीटर थी, जिस पर आज रात 12 बजे 4 प्रतिशत वैट कम होने के बाद ये करीब 80 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से मिलेगा।मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि राज्य की आम जनता, किसानों और गृहिणियों को राहत देने के लिए राज्य सरकार ने यह कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि इससे सरकार को 2000 करोड़ रुपये के राजस्व की हानि होगी।

राजे ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जबकि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम के खिलाफ सोमवार को भारत बंद की घोषणा कर रखी है। पेट्रोल और डीजल की कीमतें रविवार को एक नये रिकॉर्ड पर पहुंच गईं। वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के बढ़ते दाम और रुपये में गिरावट से ईंधन की कीमतों में तेजी बनी हुई है।

उधर, इस बारे में राजस्‍थान में कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्‍थान सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करना 10 सितंबर को कांग्रेस के भारत बंद को देखते हुए उठाया गया कदम है।

सरकारी ईंधन विपणन कंपनियों द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार रविवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 12 पैसे और डीजल की 10 पैसे प्रति लीटर बढ़ गई। दिल्ली में रविवार को पेट्रोल की कीमत 80.50 रुपये और डीजल की कीमत 72.61 रुपये प्रति लीटर हो गई। यह ईंधन की कीमत का नया उच्च स्तर है।

सभी मेट्रो शहरों और अधिकतर राज्यों की राजधानी के मुकाबले दिल्ली में ईंधन की कीमत सबसे कम है। ईंधन के दामों में उछाल की अहम वजह विभिन्न कारणों से कच्चे तेल के बाजार में लगातार तेजी और अमेरिकी डॉलर की रिकार्ड मजबूती है। इससे कुल मिला कर कच्चे तेल का आयात महंगा हुआ है। भारत को अपनी जरूरत का 80 प्रतिशत से अधिक तेल आयात करना होता है।

जल्‍द ही पंजाब और कर्नाटक में सस्‍ता होगा पेट्रोल-डीजल
पंजाब और कर्नाटक में पेट्रोल-डीजल जल्द सस्ता हो सकता है। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की हिमाचल प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल ने रविवार को यह जानकारी यहां दी। पाटिल ने एक सवाल के जवाब में कहा कि कांग्रेस शासित पंजाब और कर्नाटक के मुख्यमंत्रियों को पेट्रोलियम उत्पादों पर मूल्य वर्धित कर (वैट) कम करने के लिए पहले ही कहा जा चुका है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में वीरभद्र सिंह की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने वैट में दो प्रतिशत की कमी की थी। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के दौरान कच्चे तेल का दाम काफी उच्च स्तर पर था पर इसके बाद भी देश में पेट्रोलियम उत्पादों की दरें कम थीं।