सेवा गुणवत्ता में कमी से वोडाफोन, एयरटेल, जियो, IDEA पर जुर्माना

0
56

नई दिल्ली। टेलिकॉम रेग्युलेटर (TRAI) ने रिलायंस जियो, भारती एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया सेल्युलर (अब मर्जर हो चुका) पर मार्च तिमाही में सेवा गुणवत्ता मानकों को पूरा नहीं करने की वजह से जुर्माना लगाया है। कई सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली है। विभिन्न सेवा मानकों के आधार पर जुर्माना लगाया गया है। सभी ऑपरेटर पेमेंट करने की प्रक्रिया में हैं।

2016 में मार्केट में उतरते ही तहलका मचाने वाले रिलायंस जियो पर मार्च 2018 तिमाही के लिए 34 लाख रुपये जुर्माना लगाया गया है। मुकेश अंबानी की अगुआई वाली कंपनी पर पॉइंट ऑफ इंटरकनेक्ट कनजेशन, कस्टमर केयर तक पहुंच, एक निश्चित समय में ऑपरेटरों द्वारा कॉल जवाब फीसदी जैसे मानकों को पूरा नहीं करने की वजह से जुर्माना लगाया गया है।

TRAI ने सेवा गुणवत्ता के नियमों को कसते हुए 1 अक्टूबर 2017 से नए मानकों को पूरा करने का आदेश टेलिकॉम ऑपरेटर्स को दिया था। इसी अवधि के लिए भारती एयरटेल पर 11 लाख रुपये का फाइन लगाया गया है। बिलिंग (पोस्टपेड), कॉल सेंटर तक पहुंच और तय समय में कॉल ऑपेटर्स द्वारा जवाब की संख्या जैसे मानकों को पूरा नहीं करने को लेकर जुर्माना ठोका है।

आइडिया सेल्युलर को 12.5 लाख रुपये जुर्माना देना है। कंपनी को कॉल ड्रॉप की वजह से भी कार्रवाई का सामना करना पड़ा है। वोडाफोन को 4 लाख रुपये देने हैं। रिलायंस जियो, आइडिया सेल्युलर और वोडोफोन ने इस संबंध में ई-मेल से पूछे गए सवालों का उत्तर नहीं दिया है।

इससे पहले TRAI चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा था कि रेग्युलेटर सेवा गुणवत्ता के मानकों को पूरा नहीं करने वाले टेलिकॉम ऑपरेटर्स पर जुर्माना लगाने की तैयारी पूरी कर चुका है, लेकिन उन्होंने डीटेल्स नहीं दी थीं। TRAI का कहना कि वह ऑपरेटर्स का नाम नहीं लेना चाहता।