मोदी सरकार देगी अब खाना पकाने के लिए इंडक्शन व सोलर कुकर

0
110

नई दिल्ली। घर में बिजली है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार खाना पकाने के लिए इंडक्शन व सोलर कुकर देगी। सरकार देश के आयात बिल को कम करना चाहती है, इसलिए अब बिजली से खाना पकाने के सिस्टम को प्रचलित किया जाएगा।

बिजली मंत्रालय इस योजना का प्रारूप तैयार कर रहा है। नए साल में इंडक्शन कुकर व सोलर कुकर के वितरण की शुरुआत होगी। मुख्य रूप से ग्रामीण इलाके में सोलर कुकर व इंडक्शन कुकर दिए जाएंगे। सोलर कुकर व इंडक्शन कुकर के वितरण की जिम्मेदारी बिजली मंत्रालय के अधीन काम करने वाली सार्वजनिक कंपनी ईईएसएल को दी जा सकती है।

बिजली मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आगामी 31 दिसंबर, 2018 तक सरकार ने देश के सभी घरों में बल्ब जलाने का लक्ष्य रखा है। इसलिए अगले कदम के रूप में नए साल में बिजली से खाना पकाने को प्रचलित करने का लक्ष्य रखा गया है।

इसके तहत मुख्य रूप से ग्रामीण इलाके में सस्ते दाम पर इंडक्शन कुकर व सोलर कुकर देने की योजना बनाई जा रही है। ताकि गांव की महिलाएं आराम से खान पका सके। यह सुविधा मिलने पर ग्रामीणों को गैस सिलेंडर भरवाने व उसे लाने ले जाने की सिरदर्दी भी नहीं रहेगी। सिलेंडर को बार-बार भरवाना पड़ता है जबकि बिजली से खाना बनाने के लिए कोई अतिरिक्त प्रयास नहीं करना होता है।

बिजली मंत्री ने राज्यों के बिजली मंत्रियों के सामने रखा है प्रस्ताव
केंद्रीय बिजली राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आर.के. सिंह ने राज्यों के बिजली मंत्रियों से कहा है कि सभी घरों में बिजली जलाने के काम को पूरा करने के बाद हमें उनके जीवन स्तर को ऊपर उठाने के बारे में सोचना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस दिशा में हम खाना बनाने के लिए इंडक्शन व सोलर कुकर को प्रोत्साहित कर सकते हैं। इससे पर्यावरण को नुकसान करने वाले जलावन से मुक्ति मिलेगी और देश के आयात बिल में भी कमी आएगी।