याहू मैसेंजर बंद, अब नहीं कर सकेंगे यूज

0
120

नई दिल्ली। अपने समय की सबसे मशहूर मेसेंजर सर्विस ‘याहू मेसेंजर’ को याहू आज यानी 17 जुलाई से हमेशा के लिए बंद कर रहा है। कुछ दिनों पहले याहू ने एक बयान जारी कर कहा था कि मेसेंजर को 17 जुलाई, 2018 से बंद कर दिया जाएगा। तब तक आप सेवा का प्रयोग सामान्य तौर पर कर सकते हैं। 17 जुलाई के बाद आप इस पर चैट नहीं कर पाएंगे और यह काम करना बंद कर देगी।

दरअसल, याहू वॉट्सऐप, फेसबुक मेसेंजर, स्नैपचैट जैसे मेसेजिंग प्लैटफॉर्म से मिल रही तगड़ी चुनौती का कोई बेहतर विकल्प नहीं तैयार कर पाया। इसलिए वह अपनी इस पुरानी सर्विस को बंद कर रहा है। हालांकि याहू का कहना है कि याहू मेसेंजर के बदले वह ऐसा कुछ नया लाने की कोशिश करेगी जिससे कि यूजर्स को अपने साथ जोड़ा जा सके।

याहू मेसेंजर की शुरुआत 9 मार्च 1998 को याहू पेजर के तौर पर हुई थी। 21 जून 1999 को याहू मेसेंजर के तौर पर इसकी री-ब्रांडिंग की गई। 2001 में याहू मेसेंजर के 11 मिलियन यूजर्स थे जो 2006 में बढ़कर 19.3 मिलियन हो गए और 2009 में यह आंकड़ा 122.6 मिलियन यूजर्स का हो गया। 2014 में इससे गेम्स को रिमूव कर लिया गया। 2015 में इसका अनसेंड फीचर के साथ इसका नया वर्जन भी लॉन्च किया गया था।

गौरतलब है कि याहू मेसेंजर अपने समय में सबसे लोकप्रिय मेसेजिंग प्लैटफॉर्म था। लोग जमकर इसका इस्तेमाल करते थे, लेकिन दिन ब दिन गूगल के बढ़ते इस्तेमाल ने याहू को पीछे कर दिया। आप ये भी कह सकते हैं कि याहू अपने आप को समय के साथ उतनी तेजी से नहीं बदल सका जितनी तेजी से बदलना चाहिए था। नतीजा आपके सामने है। खैर जिन लोगों ने इसका इस्तेमाल किया है उन्हें तो यह बहुत याद आएगा।