कोटा में हुए सामूहिक योग में 72 हजार एलन स्टूडेंट्स, टीचर्स एवं अभिभावक भी

0
50

कोटा । चतुर्थ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कोचिंग सिटी कोटा में अद्वितीय, अद्भुत और अविस्मरणीय सामूहिक योगाभ्यास का कार्यक्रम हुआ। यहां करीब डेढ़ लाख साधकों ने एक साथ-एक मुद्रा में योग किया। आरएसी मैदान पर हुए इस सामूहिक योग को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया। योग के इस विश्व स्तरीय विशालतम आयोजन में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की भूमिका विशाल रही।

समारोह में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के 72 हजार विद्यार्थियों, शिक्षकों व अभिभावकों ने सपरिवार भाग लिया, जो कि योग समारोह में शामिल होने वाले साधकों की करीब आधी संख्या थी। कार्यक्रम में ये विद्यार्थी पूरे कोटा शहर के 16 कैम्पस से बस, वैन के जरिए व पैदल पहुंचे। इसके लिए दो सौ से अधिक बसों व छोटे वाहनों की व्यवस्था की गई।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक गोविन्द माहेश्वरी, राजेश माहेश्वरी, नवीन माहेश्वरी व बृजेश माहेश्वरी की अगुवाई में ये विद्यार्थी अनुशासन से पहुंचे और योग किया। समारोह में मुख्य अतिथि पतंजलि योग संस्थान के संस्थापक स्वामी रामदेव एवं राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे रहीं। मंच पर पतंजलि योग पीठ के आचार्य बालकृष्ण भी मौजूद रहे।

समारोह में मुख्य आयोजक पतंजलि योग संस्थान व राज्य सरकार की तरफ से एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट को सम्मानित किया गया। विद्यार्थियों के अनुशासन व सर्वाधिक उपस्थिति को स्वामी रामदेव व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सराहा। संस्था के निदेशक गोविन्द माहेश्वरी ने बताया कि कार्यक्रम में पतंजलि संस्था से मंगवाए गए ज्यूस विद्यार्थियों को उपलब्ध करवाए गए। कार्यक्रम के लिए 2 से 4 किलोमीटर तक पैदल चलकर व बसों से चलकर भी पहुंचे।

छाते खुले तो लगा जैसे हरियाली छा गई
समारोह में योग की समाप्ति के बाद अचानक धूप निकली तो स्वामी रामदेव बोले अब धूप हो गई है, इस पर एलन स्टूडेंट्स ने छांव के लिए छाते खोले। एक साथ जब 50 हजार से अधिक छाते खुले तो पूरे योग स्थल पर हरियाली सी छा गई। नजारा इतना देखने लायक हो गया कि मंच पर मौजूद स्वामी रामदेव ने छातों से हुई हरियाली को सराहा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी एलन स्टूडेंट्स के अनुशासन की तारीफ की।