टॉपर्स को मिले पुरस्कार, परिवार सहित झूमते हुए पहुंचे मंच पर

0
59

कोटा। माता-पिता के त्याग, विद्यार्थियों की दिन-रात मेहनत के बाद मिली खुशियां क्या होती है, यह बात रविवार को एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के जेईई-एडवांस्ड के विक्ट्री सेलीब्रेशन में देखने को मिली। यहां सफल हुए विद्यार्थियों के लिए जब शिक्षकों और हजारों विद्यार्थियों ने तालियां बजाई और जमकर उत्साह बढ़ाया तो विद्यार्थी ही नहीं उनके परिवार भी खुशियों से झूम उठे। विद्यार्थी अपने अभिभावकों के साथ खुशियों से झूमते हुए मंच पर पहुंचे।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के जेईई-एडवांस-2018 के विक्ट्री सेलीब्रेशन का। जवाहर नगर स्थित एलन सत्यार्थ कैम्पस के सौहार्द परिसर में एक के बाद एक मंच पर गीत बजते रहे और प्रतिभाओं का जोशीले अंदाज में स्वागत के साथ सम्मान होता रहा। जेईई-एडवांस के टॉपर्स के साथ अच्छे परिणाम देने वाले विद्यार्थी अपने परिजनों के साथ मंच पर पहुंचे।

कार्यक्रम में जेईई-मेन व ओलम्पियाड में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को भी पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत एलन प्रार्थना के साथ हुई। कृष्णा देवी मानधना, निदेशक गोविन्द माहेश्वरी, राजेश माहेश्वरी, नवीन माहेश्वरी व बृजेश माहेश्वरी ने दीप प्रज्जवलन किया।

इस अवसर पर निदेशक राजेश माहेश्वरी ने कहा कि श्रेष्ठता का सम्मान करना एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की परम्परा रही है। इन विद्यार्थियों ने दिन-रात मेहनत करके न सिर्फ स्वयं ने सफलता पाई है, बल्कि अपने परिवार का नाम रोशन किया है, अपने गुरूजनों को गौरवान्वित किया है, यही नहीं कोचिंग नगरी कोटा को आगे बढ़ाया है।

ऐसे विद्यार्थियों को सम्मानित करके एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट भी गौरव महसूस करता है। ये विद्यार्थी ही हमारी शक्ति हैं और इनकी सफलता ही हमारी मुस्कान है। हमारी कोशिश रहेगी कि हर वर्ष विद्यार्थियों की सफलता में वृद्धि होती रहे। निदेशक गोविन्द माहेश्वरी ने ‘महाराज गजानन आओ नी…म्हारी सभा में रस बरसाओ…..‘ भजन गाया।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की यात्रा और उपलब्धियों पर आधारित वीडियो दिखाया गया। कार्यक्रम में फेकल्टीज ने एक से बढ़कर एक फिल्मी गीतों पर प्रस्तुतियां दी। विद्यार्थियों ने भी गीत गाए। प्रस्तुतियों पर खूब तालियां बजी। साथी हाथ बढ़ाना‘ नाटक, फैशन शो व अन्त में महारास के साथ प्रस्तुतियों विद्यार्थियों वरन अभिभावकों ने भी खूब आनन्द लिया।

गुदड़ी के लाल सुनील का सम्मान
कार्यक्रम में निर्धन व ग्रामीण परिवारों की ऐसी प्रतिभाएं जो विषम परिस्थितियों से निकलकर चयनित हुए, उन्हें भी गुदड़ी के लाल स्कॉलरशिप के तहत पुरस्कृत किया गया।

इसमें छात्र सुनील कुमार मीणा को पुरस्कृत किया गया, जिसने जेईई-एडवांस्ड में 245 अंक प्राप्त कर एसटी वर्ग में अखिल भारतीय स्तर पर चौथी तथा सामान्य श्रेणी में 347वीं रैंक प्राप्त की है। दौसा जिले के महुआ तहसील, जोटवाड़ा पोस्ट के नागलमीणा गांव निवासी सुनील के माता-पिता ने नरेगा में मजदूरी की है। सुनील को आईआईटी में पढ़ाई के दौरान 4 साल तक प्रतिमाह स्कॉलरशिप दी जाएगी।

68 लाख से अधिक के पुरस्कार
विक्ट्री सेलीब्रेशन में जेईई-एडवांस में टॉप करने वाले विद्यार्थियों को मेडल, चेक तथा परिजनों को उपहारदेकर पुरस्कृत किया गया।

जेईई-एडवांस में एआईआर टॉप 10 में स्थान बनाने वाले एलन के क्लासरूम प्रोग्राम के छात्र लय जैन व नीलआर्यन गुप्ता को 5-5 लाख रुपए का चेक दिया गया।

वहीं टॉप 20 में शामिल क्लासरूम छात्र अभिनव कुमार, सौम्य गोयल व शुभम गुप्ता को 3-3 लाख के चेक व मेडल तथा पुरस्कार दिए गए। इसके साथ ही टॉप 50 में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 2-2 लाख के चेक व पुरस्कार दिए गए। टॉप 100 में शामिल क्लासरूम कोचिंग के छात्रों को 1-1 लाख रूपए के चेक, मेडल व उपहार देकर पुरस्कृत किया गया।

टॉप 500 में शामिल विद्यार्थियों को 21-21 हजार के चेक, मेडल व उपहार दिया गया। कार्यक्रम में जेईई-एडवांस्ड में चयनित सभी विद्यार्थियों को लैपटॉप बैग व मिल्टन वॉटर बॉटल देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में कुल 68 लाख 32 हजार रूपए के पुरस्कार वितरित किए गए।

अब तक 757 विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप
एलन द्वारा प्रतिभाओं को आने वाले चार वर्षों की पढ़ाई के लिए भी प्रतिमाह स्कॉलरशिप दी जाती है। एलन रैंकर्स स्कॉलरशिप इन टेक्नीकल एजुकेशन एवं एलन रैंकर्स स्कॉलरशिप इन मेडिकल एजुकेशन शामिल है।

स्कीम में अब तक 757 विद्यार्थियों को 4.45 करोड़ की स्कॉलरशिप दी जा चुकी है। इसमें निर्धन परिवार की प्रतिभाएं भी शामिल हैं। इस वर्ष 41 प्रतिभाओं का चयन इस स्कॉरलशिप के लिए किया गया है। इन विद्यार्थियों को आगामी चार वर्षों तक प्रतिमाह स्कॉरलशिप दी जाएगी।