चौतरफा खरीददारी से सेंसेक्स 284 अंक उछला, निफ्टी 10750 के पार बंद

0
39

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक के फैसले के बाद लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में तेजी देखने को मिली। बैंक, ऑटो, रियल्टी समेत सभी शेयरों में खरीददारी से सेंसेक्स में 499.61 प्वाइंट्स का उछाल आया। वहीं निफ्टी 10,800 के स्तर को पार करने में कामयाब रहा। कारोबार के आखिरी आधे घंटे में ऊपरी स्तर से बाजार में मुनाफावसूली नजर आई।

जिससे कारोबार के अंत में सेंसेक्स 284 अंक बढ़कर 35,463 के स्तर पर बंद हुआ। जबकि निफ्टी 84 अंक की उछाल के साथ 10,768 के स्तर पर क्लोज हुआ। आज के कारोबार में बीएसई पर 1950 से ज्यादा स्टॉक्स में बढ़त रही।

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयरों में जोरदार खरीददारी
लार्जकैप के साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में दूसरे दिन भी खरीददारी दिखी। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 220.83 प्वाइंट्स यानी 1.40 फीसदी चढ़कर 15,955.02 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 1.53 फीसदी बढ़ा। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 323.07 प्वाइंट्स की तेजी के साथ 16,790.37 के स्तर पर बंद हुआ।

मिडकैप शेयरों में सेल, आईडीबीआई, एबीबी, अडानी पावर, अपोलो हॉस्पिटल, रिलायंस कैपिटल, कैस्ट्रॉल इंडिया, वक्रांगी, बीईएल, कैनरा बैंक, डालमिया भारत, जिंदल स्टील, एंडुरेंस, बर्जर पेंट्स, एफएफएसएल, एमआरपीएल, आर पारव, रिलायंस इंफ्रा, सन टीवी और जीएमआर इंफ्रा 3.37 से 6.66 फीसदी तक बढ़े।

NSE पर सभी सेक्टोरल इंडेक्स में बढ़त
सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो गुरुवार के कारोबार में एनएसई पर बैंक, ऑटो समेत सभी इंडेक्स में तेजी रही। सबसे ज्यादा तेजी निफ्टी रियल्टी इंडेक्स में 2.97 फीसदी दर्ज की गई। बैंक निफ्टी इंडेक्स 0.57 फीसदी चढ़कर 26,517.80 के स्तर पर बंद हुआ। इसके अलावा ऑटो इंडेक्स 0.72%, फाइनेंशियल सर्विसेज इंडेक्स 0.84%, एफएमसीजी इंडेक्स 0.92%, आईटी इंडेक्स 1.15%, मीडिया इंडेक्स 0.72%, मेटल इंडेक्स 1.48%, फार्मा इंडेक्स 0.22%, पीएसयू बैंक इंडेक्स 0.56% तक बढ़कर बंद हुए।

निफ्टी में 10750-10760 शॉर्ट टर्म रेजिस्टेंस
एपिक रिसर्च के सीईओ मुस्तफा नदीम का कहना है कि बुधवार को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के फैसले से घरेलू शेयर बाजार बेअसर रहा। पिछली गिरावट को बाजार ने ऑब्जर्ब कर लिया। सेंसेक्स में करीब एक फीसदी तक तेजी देखने को मिली। वहीं निफ्टी 10700 के करीब पहुंचा।

विक्स इंडिया में गिरावट से निवेशकों की चिंता घटी है। निफ्टी में 10750-10760 शॉर्ट टर्म रेजिस्टेंस दिख रहा है। ओवलऑल रेंज अभी भी डायरेक्शनल प्लेयर्स को परेशान कर सकता है और यह समय की बात है कि हम इसका ब्रेकआउट देखते हैं। नियर टर्म में सतर्क रहते हुए 10750 के ऊपर क्लोजिंग आधार पर गिरावट में खरीददारी रणनीति होनी चाहिए।