NEET रिजल्ट : राज. टॉप पर, 81230 ने प्राप्त किए कटऑफ मार्क्स से अधिक

0
96

कोटा।  नीट के परिणामों में राजस्थान टॉप पर रहा है। सीबीएसई द्वारा जारी किए गए परिणामों में राज्यवार सूची भी जारी की गई। इसमें रजिस्टर्ड विद्यार्थी और काउंसलिंग के लिए क्वालीफाइड विद्यार्थियों की संख्या के अनुपात के आधार पर राजस्थान नम्बर 1 पर है। यहां से 79 हजार 57 विद्यार्थियों ने नीट की परीक्षा दी, जिसमें से सर्वाधिक 74 प्रतिशत 58738 विद्यार्थी क्वालीफाई हुए।

दूसरे स्थान पर दिल्ली है, जहां से 27 हजार 666 विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया और 20397 विद्यार्थी क्वालीफाई हुए। इसी तरह तीसरे स्थान पर हरियाणा रहा, जहां से 29 हजार 476 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी, जिसमें से 73 प्रतिशत यानी 21 हजार 398 विद्यार्थी क्वालीफाई हुए। सबसे कम 294 विद्यार्थियों ने दमन एवं दीव से आवेदन किया, जिसमें से 34 प्रतिशत यानी 100 विद्यार्थियों ने क्वालीफाई किया। 

एलन के सबसे ज्यादा विद्यार्थियों ने कट ऑफ मार्क्स से अधिक अंक प्राप्त किए
देश की सबसे बड़ी मेडिकल प्रवेश परीक्षा नेशनल इलेजिब्लिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) -2018 के परिणामों में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट एक बार फिर सबसे बड़ा व सफल इंस्टीट्यूट साबित हुआ है। इन परिणामों में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट से सबसे ज्यादा विद्यार्थियों ने कट ऑफ मार्क्स से अधिक अंक प्राप्त किए हैं।

एलन के निदेशक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि नीट परिणामों में टॉप 10 में 6 विद्यार्थी एलन के हैं। इनमें 5वें स्थान प्रिंस चौधरी रहे। प्रिंस ने ओबीसी केटैगिरी में ऑल इंडिया में रैंक 1 प्राप्त की। इसके साथ ही ऑल इंडिया दूसरे स्थान पर रोहन पुरोहित, छठे स्थान पर वरूण मुपिदि, सातवें पर कृष्णा अग्रवाल, नवें पर माधवन गुप्ता तथा 10वें पर रमनीक कौर मेहल रहे।

माहेश्वरी ने कहा कि इसके साथ ही टॉप 20 में 11, टॉप 50 में 30 तथा टॉप 100 में 55 स्टूडेंट्स एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट से रहे। माहेश्वरी ने बताया कि एलन से कुल 81 हजार 230 विद्यार्थियों ने कट ऑफ मार्क्स से अधिक अंक प्राप्त किए। इनमें 50 हजार 267 क्लास रूम कोचिंग से तथा 30 हजार 963 विद्यार्थी दूरस्थ शिक्षा से एलन से जुड़े हैं।