30 व 31 मई की राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल तय, केंद्रीय श्रमायुक्त के प्रयास विफल

0
260

कोटा।  केंद्रीय श्रमायुक्त के समक्ष सोमवार को भारतीय बैंक संघ व युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के प्रतिनिधियों की वार्ता में कोई सकारात्मक प्रगति न होने से 30 व 31 मई की राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल तय हो गई है। युनाइटेड फोरम के कोटा संयोजक पदम पाटोदी ने बताया कि बैंक कर्मियों एवं अधिकारियों ने अपनी हड़ताल के मुद्दो से संबंधित बेज लगा कर शाखाओं में काम किया।

उन्होंने बताया कि भारतीय बैंक संघ द्वारा बैंक कर्मियों के मांगपत्र को हल करने में की जा रही देरी, सरकार के उदासीन रवैये, 2 प्रतिशत के नगण्य वेतन वृद्धि के प्रस्ताव तथा सिर्फ स्केल 3 तक के अधिकारियों को समझौते की परिधि में शामिल करने के विरोध में तथा वेतन समझौता शीघ्र सम्पन्न करने, वेतन में समुचित वृद्धि व सेवा शर्तों में सुधार तथा स्केल 7 तक के अधिकारियों को समझौते में शामिल करने की मांग को लेकर यह हड़ताल की जा रही है। 

हड़ताल में शामिल होने वाले बैंक कर्मी एवं अधिकारी दिनांक 30 मई को सुबह 9.30 बजे कोटड़ी पेट्रोल पंप के सामने स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की झालावाड़ रोड शाखा तथा 31 मई को इसी समय भारतीय स्टेट बैंक की एरोड्राम चौराहा शाखा के समक्ष एकत्रित होकर प्रदर्शन करेंगे।

बैंक कर्मी एवं अधिकारी नेताओ एआईबीईए के अशोक ढल , ललित गुप्ता, डी एस साहू, आइबोक के आरके जैन, एन सीबीई के संजीव झा, विपिन चोरायवाल, एआईबीओए के मोहम्मद अकरम, एन ओ बी डब्ल्यू के सीएल भार्गव, इनबोक के मुकेश वर्मा ने एक बयान जारी कर बैंक कर्मियों एवं अधिकारियों से हड़ताल को सफल बनाने का आव्हान किया है।