कर्नाटक चुनाव: भाजपा ने भी पेश किया सरकार बनाने का दावा

    0
    41

    बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणामों की तस्वीर लगभग साफ हो चुकी है। अंतिम परिणाम जैसे-जैसे आते जा रहे हैं सूबे में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बन रही है। उधर, अभी तक के रुझानों और सीटों पर जीत के हिसाब से बीजेपी प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है और इसी आधार पर उसने सरकार बनाने का दावा भी पेश कर दिया है।

    बीजेपी की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा ने मंगलवार शाम राज्यपाल से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है। उधर, येदियुरप्पा के बाद जेडीएस और कांग्रेस ने भी राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

    ऐसे में अब गेंद राज्यपाल के पाले में हैं और देखना महत्वपूर्ण होगा कि वह सरकार बनाने का न्योता किसे देते हैं। हालांकि मीडिया सूत्रों के मुताबिक राज्यपाल बीजेपी को पहले मौका दे सकते हैं। कर्नाटक चुनाव परिणाम के बाद बीजेपी सबसे ज्यादा सीटों के साथ उभरी है लेकिन बहुमत के आंकड़े को पार नहीं कर सकी है।

    इसके बावजूद बीजेपी सरकार बनाने की तैयारी में है। येदियुरप्पा ने कहा, ‘हम सबसे बड़ी पार्टी हैं और ऐसे में सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए। बीजेपी सौ प्रतिशत सरकार बनाएगी और विधानसभा में बहुमत भी साबित करेगी।’ उधर, राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद मीडिया से मुखातिब सिद्धारमैया ने कहा, कांग्रेस ने बिना शर्त जेडीएस को समर्थन दिया है।

    सिद्धारमैया ने कहा कि गठबंधन की शर्तों पर बाद में फैसला होगा। पहली प्राथमिकता सरकार का गठन है। कांग्रेसी नेता ने दावा किया कि उनके पास मैजिक नंबर है। उन्होंने कहा कि दो निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के साथ है। येदियुरप्पा मंगलवार शाम करीब पांच बजे पार्टी नेताओं के साथ राजभवन पहुंचे।

    राज्यपाल से मुलाकात और सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद येदियुरप्पा ने कहा, ‘हम सबसे बड़े दल के तौर पर दावा पेश करके आए हैं। हमने राज्यपाल से मुलाकात की क्योंकि कर्नाटक में हम सबसे बड़ा दल (सिंगल लार्जेस्ट पार्टी) हैं। हम विधानसभा में बहुमत पेश करेंगे।’

    येदियुरप्पा के साथ बीजेपी नेता अनंत कुमार, शोभा करंदलजे और राजीव चंद्रशेखर ने भी राज्यपाल से मुलाकात की। दिलचस्प बात यह है कि चुनाव आयोग की ओर से अब तक सभी सीटों पर नतीजे नहीं आए हैं और राज्यपाल के सामने भी अभी आधिकारिक आंकड़े नहीं पहुंचे हैं। आखिरी फैसले के लिए अभी राज्यपाल भी अंतिम परिणाम का इंतजार करेंगे।

    दूसरी ओर कांग्रेस और जेडी(एस) ने एकसाथ आने का फैसला किया है क्योंकि दोनों साथ मिलकर बहुमत का आंकड़ा पार कर रहे हैं। जेडी(एस) और कांग्रेस ने एचडी कुमारास्वामी को अपना सीएम पद का दावेदार घोषित किया है।

    बीजेपी का आंकड़ा फिलहाल 104 सीटों का है और बहुमत के लिए बीजेपी को आठ और विधायकों की जरूरत होगी। वहीं कांग्रेस ने कर्नाटक में दूसरा ही दांव खेला है। कांग्रेस और जेडीएस साथ मिलकर 116 विधायकों पर पहुंच रहे हैं और बहुमत के मैजिक नंबर को पार कर रहे हैं।