विकास दर 7.5 फीसदी से अधिक रहने की उम्मीद-नीति आयोग

0
27

नई दिल्ली। सरकारी थिंकटैंक नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार का कहना है कि चालू वित्त वर्ष में देश की आर्थिक वृद्धि दर 7.5% तक पहुंच सकती है। इसकी प्रमुख वजह निवेश चक्र में सुधार और उद्योगों की पूरी क्षमता का इस्तेमाल होना है। उन्होंने कहा कि सरकार को अब पिछले 47 महीने में की गई सुधार पहलों को एकजुट और मजबूत करने पर ध्यान देने की जरुरत है।

कुमार ने कहा, ”देश में आर्थिक माहौल सकारात्मक और आशान्वित है। निवेश चक्र भी ऊपर की ओर बढ़ रहा है। वहीं उद्योगों का क्षमता इस्तेमाल बढ़कर 74% हो गया और मुद्रास्फीति अभी भी लक्ष्य के भीतर बनी हुई है। कुमार ने कहा, ”प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) बढ़ रहा है और मुझे उम्मीद है कि 2018- 19 में आर्थिक वृद्धि कम से कम 7.5 प्रतिशत पर पहुंच जायेगी। वित्त वर्ष 2017-18 में आर्थिक वृद्धि दर 6.6% रहने की उम्मीद है।

यह पूछे जाने पर कि सरकार को अगले एक साल में कौन से आर्थिक सुधारों की पहल करनी चाहिये? जवाब में कुमार ने कहा, ”सरकार ने कई सुधार और पहलें की हैं और सरकार को नए सुधार या पहल शुरु करने के बजाय पुरानों पर ही ध्यान केंद्रित करते हुये उन्हें मजबूती देनी चाहिए।