जुलाई से उम्मेदगंज में शुरू होगा एग्रीकल्चर कॉलेज, पीएचडी कोर्स भी चलेगा

0
32

कोटा। एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी के बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट (बोम) की बुधवार को बैठक हुई, जिसमें एग्रीकल्चर कॉलेज को हरी झंडी मिल गई। बोम ने कैथून रोड स्थित कृषि अनुसंधान केंद्र उम्मेदगंज में जुलाई से कॉलेज शुरू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। 60 सीटों के साथ कॉलेज शुरू किया जाएगा।

बीएससी एग्रीकल्चर के साथ दो सीट पीएचडी और पांच सीट एमएससी में रहेंगी। कुलपति प्रो. जीएल केशवा ने बताया कि कॉलेज के लिए सरकार से हाल ही में सवा 2 करोड़ रुपए का बजट मिला है। वहीं, शैक्षणिक व अशैक्षणिक स्टाफ के 28 पद भी स्वीकृत हो गए हैं, जिनकी यूनिवर्सिटी जल्द भर्ती करेगी।

झालावाड़ कॉलेज के बीएससी कोर्स में बढ़ी 30 सीट
बोम ने झालावाड़ के उद्यानिकी एवं वानिकी कॉलेज में बीएससी वानिकी में 30 सीटें बढ़ाई हैं। अभी इस कोर्स में 30 सीटें ही हैं। झालावाड़ कॉलेज में शुरू हुए वन्यजीव विज्ञान विषय में वन संवर्धन एवं कृषि वानिकी, जैव वानिकी एवं वृक्ष सुधार, वनोत्पाद एवं उपयोग संकाय में 5-5 सीटों पर एमएससी पाठ्यक्रम शुरू करेगा। पुष्प एवं भू दृश्य विज्ञान में स्टाफ के अभाव में 2 सीटें कम की हैं।

62 पद मंजूर किए, सीधी भर्ती से भरे जाएंगे
यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कृषि अनुसंधान, कृषि अनुसंधान उपकेंद्र, कृषि विज्ञान केंद्र आदि के लिए 62 पद सृजित किए हैं। इसके तहत प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर, असिस्टेंट प्रोफेसर व विषय विशेषज्ञों की सीधी भर्ती की जाएगी। सहायक प्राध्यापकों को करियर एडवांसमेंट स्कीम का लाभ भी दिया जाएगा।

इस दौरान विधायक हीरालाल नागर, डॉ. रीता गुलाटी, डॉ. एसएन शर्मा, डॉ. रामगोप मीणा, डॉ. नारायण लाल गुप्ता, डॉ. आईबी मौर्य, डॉ. केएन ओझा, डॉ. एसके जैन, डॉ. विधि शर्मा और सियाराम मीणा मौजूद रहे।