रिजर्व बैंक को ठेंगा दिखा रहा स्कूल, डीडी एवं चेक की जगह नकद ले रहा फीस

0
38

कोटा। वल्लभ नगर स्थित सोफिया स्कूल प्रबंधन ने फीस जमा करने में मनमाने नियम लागू कर रखे हैं। स्कूल की फीस इंडियन ओवरसीज बैंक में जमा होती है। अभिभावक फीस जमा कराने जाते हैं तो बैंककर्मी कैश देने को कहते हैं। बैंक प्रबंधन का कहना है कि स्कूल ने चेक लेने से मना कर दिया है।

वहीं, स्कूल प्रबंधन का कहना है कि पिछले सेशन में कई अभिभावकों के चेक बाउंस हो गए थे। इसके चलते कैश फीस की व्यवस्था लागू की है। लीड बैंक प्रबंधक कुंदनसिंह कुंपावत ने भी इस व्यवस्था को गलत माना है।

आरबीआई से की शिकायत
वीएमओयू के रजिस्ट्रार मुरलीधर प्रतिहार ने बताया कि वे अपनी बेटी की फीस जमा कराने गए थे, उनके जैसे कई परिजन भी वहां फीस जमा करवा रहे थे। बैंक प्रबंधन उनसे कैश रुपए की मांग कर रहा था।

उन्हें बताया कि आरबीआई के नियमों में ऐसा कही भी लिखा हुआ नहीं है कि कैश ही लिया जाएगा। बैंक प्रबंधन ने उनकी भी नहीं सुनी। इस मामले में उन्होंने लीड बैंक प्रबंधक तथा आरबीआई को शिकायत की है।

 कैश ही लेने के लिए कहा  : जुलाई से फीस ऑनलाइन जमा होगी। पिछले साल तीन-चार अभिभावकों के चेक बाउंस हो गए थे, इसलिए कैश ही लेने के लिए कहा गया है। अब व्यवस्था में बदलाव पर विचार किया जाएगा। -सिस्टर मीना, सोफिया स्कूल

चेक लेने से मना : स्कूल प्रबंधन ने चेक लेने से मना किया है। इसलिए कैश ले रहे हैं, आरबीआई के नियमों यह नहीं है पर स्कूल प्रबंधन की बात मानना भी हमारी मजबूरी है। इसलिए अभिभावकों को साफ कर दिया। -विनीत, बैंक प्रबंधक