मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं के प्रति बढ़ रहा रूझान

0
39

कोटा। कोचिंग के लिए नए सत्र शुरू होने के साथ देशभर से विद्यार्थियों और अभिभावकों का आना शुरू हो गया है। इस वर्ष मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करने के प्रति रूझान अधिक बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। गत वर्ष की अपेक्षा इस क्षेत्र में परीक्षा की तैयारी करने आने वाले विद्यार्थियों की संख्या में करीब 25 प्रतिशत का इजाफा होता दिखा है।

विद्यार्थियों और अभिभावकों के कोटा आने का क्रम जारी है। इसी के चलते ओरियन्टेशन का सिलसिला भी जारी है। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में मेडिकल के ओरियन्टेशन में अब तक करीब 20 हजार से अधिक विद्यार्थी व अभिभावक शाामिल हो चुके हैं। रविवार को भी चार सत्रों में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में मेडिकल कोर्स के ओरियन्टेशन सेशन हुए, लैंडमार्क सिटी क्षेत्र स्थित सम्यक कैंपस के सद्गुण सभागार में आयोजित इन सेशन में करीब 10 हजार विद्यार्थी, अभिभावक शामिल हुए।

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन व एलन प्रार्थना के साथ हुई। एचओडी पी बी सक्सेना ने कहा कि जिस तरह मोबाइल में सिम डालने पर ही बात होना शुरू होती है, उसी तरह विद्यार्थियों को भी कोटा आते ही सिम दिमाग में डालनी होगी। ‘एस‘ से संस्कार जो आपको अपने लक्ष्य के प्रति दृढ़ रखने में मदद करेगा।

‘आई‘ से इंटेलेक्ट यानी आपको कोटा में रहकर क्या करना है, किस उद्देश्य से आप यहां आएं हैं और किस दिशा में जा रहे हैं यह तय करने के लिए आपकी बुद्धि आपको ज्ञान देगी। वहीं ‘एम‘ से माइंड यानी आपका मन संस्कार और इंटेलेक्ट के बिना किसी दूसरी दिशा में नहीं जाएगा।

कोटा में आए हैं तो हार नहीं माननी है, याद रखें गिरता वही है जो चलता है। इसलिए मुश्किलें आएंगी लेकिन आगे बढ़ते रहना है, कोशिश करते रहना है। एचओडी पी बी सक्सेना सर ने कहा कि कोटा आकर सिर्फ और सिर्फ पढ़ाई की तरफ देखना है। बाॅयलोजी को रटने नहीं समझने की कोशिश करो।

मन से पढ़ो जो समस्या आए तो एक बार नहीं बार-बार पूछो, पूछने में कोई झिझक नहीं होनी चाहिए। एलन के सीनियर फेकल्टी व एचओडी ने विद्यार्थियों को एलन सिस्टम और कोटा शहर के बारे में बताया। सीनियर वाइस प्रसीडेंट सीआर चैधरी ने कहा कि हम विद्यार्थियों के सपने पूरे करने के लिए हर संभव कोशिश करेंगे, विद्यार्थियों को सिर्फ हमारे साथ चलना है।

आप दो कदम चलेंगे हम चार कदम चलकर आपको आगे बढ़ाएंगे। विद्यार्थियों की समस्या के समाधान के लिए एलन हर संभव कोशिश करता आया है और करता रहेगा। वइस प्रसीडेंट विनोद कुमावत ने एलन सिस्टम की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आपको लक्ष्य पर नजर रखते हुए दिन-रात सिर्फ पढ़ाई और परीक्षा के बारे में सोचना है, ये दो साल आपके जीवन के टर्निंग प्वाइंट साबित होंगे।

आप यहां आएं तो डाॅक्टर बनकर जाएं, यही हमारा प्रयास रहेगा। विद्यार्थियों के क्लास शुरू होने से लेकर क्लास खत्म होने, टेस्ट की प्रक्रिया, डाउट काउंटर्स, स्टडी मटीरियल के बारे में बताया। इसके साथ ही परीक्षा की तैयारी कैसे करनी है। पढ़ाई के लिए क्या-क्या सुविधाएं मिलेंगी।