सीरिया संकट से और महंगे होंगे सोना, जीरा और पेट्रोल-डीजल

0
483

15 दिनों में सोना 3 फीसदी, जीरा 8 फीसदी, क्रूड 9.7 फीसदी महंगे हुए

मुंबई।  सीरिया में लगातार चल रही अनिश्चितता और पिछले सप्ताह अमेरिका की अगुआई में हुए मिसाइल हमलों के कारण क्रूड ऑयल, सोना और जीरा के दाम बढ़ गए हैं। बाजार विशेषज्ञों के अनुसार सीरिया में अस्थिरता और बढ़ी तो इन तीनों चीजों के भाव और तेजी से बढ़ेंगे।

खास बात यह है कि जीरा और क्रूड की कीमतें अभी तो सिर्फ आशंका या अनुमान के कारण ही बढ़ रही हैं। अगले महीनों में सोने के भावों में और तेजी देखने को मिलेगी। बीते 15 दिनों में ही सोने के भाव बाजार में 2.85 फीसदी बढ़ चुके हैं। वहीं दूसरी ओर जीरे का मंडियों में भाव 16 हजार रुपए को पार कर गया है और इसमें 2.85 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है। जबकि क्रूड ऑयल के अंतरराष्ट्रीय भाव 9.71 फीसदी बढ़ गए हैं। क्रूड का भाव 73 डॉलर के स्तर को पार कर गया है।

भारत में डॉलर के मुकाबले रुपए के कमजोर होने के कारण दोहरी मार पड़ रही है। चूंकि भारत कच्चे तेल का दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा आयातक है, खरीदी डॉलर में की जाती है। डॉलर के मंहगे होने के कारण डीजल-पेट्रोल की कीमतें बढ़ रही हैं। यही कारण है कि पेट्रोल और डीजल के भाव बीते साढ़े चार वर्षों में सर्वाधिक हो गए हैं।

गौरतलब है कि सीरिया ऑर्गेनिक जीरा उत्पादन करने वाला विश्व का सबसे प्रमुख देश है इसके कारण सीरिया के जीरे की मांग कई देशों में रहती है। केडिया कमोडिटी के प्रमुख अजय केडिया के मुताबिक सीरिया संकट के कारण जीरा, सोना और क्रूड के भावों में तेजी है। जीरे का उत्पादन इस वर्ष पिछले वर्ष से बेहतर है फिर भी कीमतें बढ़ रही हैं। मई तक एक्सपोर्ट डिमांड के कारण भाव 17 सौ रुपए तक पहुंच सकते हैं। शेष | पेज 14 पर