आईजी पत्नी के साथ बेटे को छोड़ने परीक्षा केंद्र के अंदर गए, जानिए फिर क्या हुआ

0
27

कोटा। जेईई मेन्स के ऑफलाइन एग्जाम में सख्ती के लाख दावों के बावजूद कोटा के आईजी विशाल बंसल अपनी पत्नी के साथ जयपुर के एक सेंटर पर अंदर तक पहुंच गए। इस सेंटर पर उनके बेटे का एग्जाम था। जबकि सीबीएसई की गाइडलाइन के अनुसार स्टाफ और स्टूडेंट्स को छोड़कर किसी को भी सेंटर के मेन गेट के अंदर जाने की इजाजत नहीं थी।

कोटा के कई सेंटर्स पर तो एग्जाम के दौरान पैरेंट्स को 100 मीटर के दायरे के आसपास भी नहीं आने दिया। बार-बार व्यवस्थाओं का हवाला देते हुए पुलिस पैरेंट्स को मेन गेट के बाहर से हटा रही थी।  दरअसल, कोटा आईजी बंसल का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वायरल वीडियो की डिटेल के मुताबिक वे जयपुर के जवाहर नगर स्थित माहेश्वरी पब्लिक स्कूल में अपने बेटे को जेईई मेन्स का एग्जाम दिलवाने के लिए गए। इस दौरान वे अपनी पत्नी के साथ बेटे को छोड़ने सेंटर के मेन गेट से अंदर चले गए। काफी देर तक खड़े भी रहे। इस दौरान वहां तैनात पुलिस जाब्ता भी शांत रहा।

यह देखकर वहां मौजूद पेरेंट्स ने हंगामा कर दिया। वीडियो में कुछ पेरेंट्स पुलिस से कहते दिख रहे हैं कि आईजी और मैडम को बाहर निकालो। वहीं पुलिसकर्मी पब्लिक को शांत करवा रहे हैं। कुछ पेरेंट्स ने मीडियाकर्मियों को सूचना देने की बात कही तो पुलिसकर्मियों ने कहा कि बुला लो। पुलिसकर्मियों का तर्क था कि प्रोसीजर के अनुसार ही आईजी को अंदर जाने दिया।

सिर्फ स्टूडेंट्स और स्टाफ को ही एंट्री
नियम के मुताबिक सेंटर में 7 बजे से स्टूडेंट्स की एंट्री शुरू हो गई थी। इसके बाद किसी भी बाहरी व्यक्ति की एंट्री एग्जामिनेशन सेंटर में नहीं होनी थी। स्टूडेंट्स को भी कड़ी जांच के बाद ही अंदर जाने दिया गया। सभी तरह के गहने और मोबाइल बाहर ही रखवा लिए गए। यहां तक कि स्टाफ को भी मोबाइल ले जाने की इजाजत नहीं थी। 

क्लास रूम में नहीं गया 
बेटे की परीक्षा थी इसलिए उसे जयपुर में एग्जाम सेंटर पर छोड़ने गया था। क्लास रूम में न मैं गया और न मेरी पत्नी। एग्जाम स्टार्ट होने के 15-20 मिनट पहले ही मैं स्कूल छोड़ चुका था।
– विशाल बंसल, आईजी कोटा रेंज