एयरपोर्ट से हिरासत में लिए गए चंदा कोचर के देवर, सीबीआई कर रही पूछताछ

0
38

मुंबई। आईसीआईसीआई बैंक द्वारा वीडियोकॉन को दिए गए लोन के मामले में बैंक की सीईओ चंदा कोचर के परिवार पर शिकंजा कसता जा रहा है। चंदा कोचर के देवर राजीव कोचर को मुंबई एयरपोर्ट से गुरुवार को हिरासत में लिया गया। इमिग्रेशन अथॉरिटीज ने उन्हें उस समय रोक लिया जब वह एक दक्षिणपूर्वी एशियाई देश के लिए उड़ान भरने वाले थे। उन्हें हिरासत में लेने के बाद सीबीआई को सौंप दिया गया। सीबीआई अधिकारी वीडियोकॉन ग्रुप के साथ लेनदेन के मामले में पूछताछ कर रहे हैं।

अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने राजीव कोचर के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर (LoC) जारी किया था। चंदा कोचर के पति दीपक कोचर और विडियोकॉन ग्रुप के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत के खिलाफ सीबीआई प्रारंभिक जांच (PE) दर्ज कर चुकी है।

सीबीआई दीपक कोचर की कंपनी न्यूपावर के खिलाफ लगे उन आरोपों की जांच कर रही है जिसके मुताबिक कंपनी को आईसीआईसीआई बैंक की तरफ से दिए गए लोन के बदले वीडियोकॉन ग्रुप के प्रमोटर वेणुगोपाल धूत से फंड मिला है। सीबीआई दीपक कोचर को पूछताछ के लिए बुला सकती है। उनका नाम शुरुआती जांच में आया है।

सीबीआई ने यह पता लगाने के लिए अपनी आरंभिक जांच के तहत आईसीआईसीआई बैंक के कुछ अफसरों से भी पूछताछ की है कि क्या धूत के वीडियोकॉन ग्रुप ने 2012 में बैंक की तरफ से मिले 3250 करोड़ रुपये के लोन के बदले में कुछ रकम भी दी है।

सूत्रों ने बताया कि दीपक कोचर और धूत के साथ आईसीआईसीआई बैंक के ‘अज्ञात’ बैंक अधिकारियों को जल्द ही जांच के लिए बुलाया जा सकता है। चंदा कोचर को भी सीबीआई जांच में बुलाएगा या नहीं यह डॉक्युमेंट्स की जांच के बाद ही पता चल पाएगा। सीबीआई ने विडियोकॉन के कुल 40 हजार करोड़ के लोन और दीपक कोचर और धूत की NRPL के डॉक्युमेंट्स जुटा लिए हैं।