CBSE : पेपर से 15 मिनट पहले दो टीचर्स ने लीक किया था 12वीं का पेपर

0
20

नई दिल्ली। सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा के पेपर लीक होने के मामले का दिल्ली पुलिस ने भंडाफोड़ कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर पूरे घटनाक्रम का खुलासा किया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच का कहना है कि उसने एक निजी स्कूल के दो टीचर्स और एक कोचिंग सेंटर के मालिक को अरेस्ट किया है, जो पेपर लीक के लिए जिम्मेदार हैं।

पुलिस के मुताबिक, ‘टीचर्स ने सुबह 9:15 बजे पेपर की तस्वीर ली और उसे कोचिंग सेंटर के मालिक को भेज दिया। इसके बाद कोचिंग सेंटर मालिक ने इस पेपर को छात्रों को पास कर दिया।’ क्राइम ब्रांच के मुताबिक आरोपियों की पहचान निजी स्कूल के शिक्षकों ऋषभ और रोहित के तौर पर की गई है, जबकि तौकीर नाम का तीसरा आरोपी बवाना में एक कोचिंग सेंटर में ट्यूटर है।

पुलिस के मुताबिक पेपर के फोटो के साथ ही उसकी हाथ से लिखी हुई कॉपी भी सर्कुलेट हो रही थी। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है और कुछ अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। दिल्ली पुलिस ने ट्यूटर और दो टीचर्स को शनिवार को पुलिस ने हिरासत में लिया था, जिन्हें बाद में अरेस्ट कर लिया गया।

आपको बता दें कि सीबीएसई द्वारा आयोजित बोर्ड परीक्षा में दसवीं के गणित और 12वीं के अर्थशास्त्र विषयों के पेपर लीक हो गए थे। सीबीएसई ने दोनों पेपर्स को दोबारा करवाने का ऐलान किया है। 12 (अर्थशास्त्र) का पेपर 25 अप्रैल को होगा, वहीं दसवीं (गणित) के पेपर को दोबारा करवाने पर अभी विचार किया जा रहा है। 15 दिनों के अंदर जांच के बाद तय होगा कि गणित का पेपर फिर से करवाया जाए या नहीं। अगर गणित का पेपर दोबारा हुआ भी तो सिर्फ दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा क्षेत्र में होगा।