10 करोड़ सेवाकर नहीं चुकाने पर कंपनी का ऑफिस सील

0
27

कोटा। केंद्रीय जीएसटी विभाग ने एक कंपनी के ऑफिस को सील कर दिया है। इस पर 10 करोड़ का सेवाकर बकाया है। कई बार नोटिस देने के बाद भी कंपनी ने कोई जवाब नहीं दिया था। विभाग अब कंपनी के मुख्यालय चेन्नई में भी संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई करेगी। उपायुक्त नरेश बुंदेल ने बताया कि चेन्नई की वीडी स्वामी एंड कंपनी ने कोटा में शॉपिंग सेंटर में ऑफिस खोल रखा था।

31 मार्च तक आयकर नहीं भरा तो,  डिफॉल्टर को हो सकती है जेल
आयकर विभाग की ओर टैक्स ओर रिटर्न भरने का मौका 31 मार्च तक दिया जा रहा है। इसके बाद विभाग टैक्स नहीं भरने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा। जिसमें टैक्स वसूली के साथ जेल भेजने का प्रावधान भी है। किसी कारणवश यदि कोई टैक्स जमा कराने या रिटर्न भरने से वंचित रहे है तो 31 मार्च से पहले रिटर्न या टैक्स जमा करवाने का अवसर दिया जा रहा है।

इसके बाद विभाग डिफॉल्टर से सौ प्रतिशत वसूली करने के साथ धारा 131 के तहत होने वाली सजा में जेल भेजने का प्रावधान है। मुख्य आयकर आयुक्त पीके अम्बष्ठ ने बताया, कि आयकर जमा करवाने के लिए विभाग अभियान चला रहा है, जिसमें 31 मार्च तक टैक्स जमा करवाने अंतिम मौका है।

इसके बाद सौ प्रतिशत वसूली के साथ सजा भी हो सकती है। उन्होंने बताया, कि ऑपरेशन क्लीन मनी के तहत लगातार सर्वे किए जा रहे है, इससे ब्लैक मनी का पता चल सकेगा, नोटबंदी के बाद से 3 हजार से अधिक लोगों को नोटिस दिए जा चुके हैं। इसके अलावा कई ओर नोटिस इश्यू किए जाएंगे।