PNB में 1300 करोड़ का एक और फ्रॉड उजागर

0
358

नई दिल्‍ली। पंजाब नेशनल बैंक ने 1322 करोड़ की एक और फ्रॉड ट्रांजेक्‍शन का पता लगाया है। यह भी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से जुड़ा है। इसका मतलब ये हुआ कि‍ पीएनबी फ्रॉड केस की कुल वैल्‍यू 12622 करोड़ रुपए हो गई है। इस बात का खुलासा बैंक ने सोमवार की शाम को कि‍या।

गौरतलब ये है कि‍ यह नई ट्रांजेक्‍शन जो सामने आई है वह पीएनबी की 2017 के फाइनेंशि‍यल ईयर की नेट इंनकम के बराबर है। बैंक ने बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (बीएसई) को इसकी जानकारी दी है।

वि‍देशों में भी सीज होगी नीरव की प्रॉपर्टी
PNB फ्रॉड मामले में अब एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) 6 देशों में स्थित नीरव मोदी के संपत्तियों की पहचान कर उन्हें सीज करने का काम शुरू करेगी। इस बारे में मुंबई की स्पेशन कोर्ट ने ईडी को लेटर रोगेटरी जारी कर दिया है।

यह लेटर स्पेशल जज एमएस अजमी द्वारा जारी किया गया है। लेटर जारी होने के बाद पीएमबी फ्रॉड कर विदेश भाग चुके नीरव मोदी के विदेशी संपत्तियों पर शिकंजा कसने का रास्ता साफ हो गया है।

पड़ताल करेंगे मालेगम
आरबीआई ने इस घोटाले की पोल खोलने का जिम्‍मा एक 84 साल के शख्‍स को सौंपा है। आरबीआई ने सीए येज्‍दी हिजरी मालेगम की अध्‍यक्षता में एक कमिटी बनाई है।

यह कमिटी पीएनबी में संभावित फ्रॉड के खतरों को पहचानने के अलावा बैंकों के एनपीए की पड़ताल करेगी। मालेगम आरबीआई बोर्ड में 2016 तक मेम्‍बर रहे हैं। उन्‍होंने सबसे लंबे समय तक रिजर्व बैंक को अपनी सेवाएं दी हैं।

लॉ फर्म पर छापेमारी
PNB फ्रॉड मामले में जांच एजेंसी सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेसिटगेशंस (सीबीआई) ने मुंबई की जानी-मानी लॉ फर्म सिरिल अमरचंद मंगलदास पर रेड की । यह रेड पिछले हफ्ते की गई थी, जिसकी जानकारी काफी बाद में दी गई। ऐसी खबर है कि स्कैम का मामला सामने आने के एक माह पहले नीरव मोदी ने इस लॉ फर्म को हायर किया था।