PNB फ्रॉड: मोदी-चौकसी के 35 ठिकानों पर छापे, 549 करोड़ का गोल्ड, डायमंड सीज

0
20

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में हुए घोटाले में शुक्रवार को सीबीआई ने नई एफआईआर दर्ज की। यह केस 11, 356 करोड़ रुपए के इस घोटाले के एक आरोपी मेहुल चौकसी के ‘गीतांजलि ग्रुप ऑफ कंपनीज’ के खिलाफ दायर किया गया है। इसके अलावा चौकसी से जुड़े 26 ठिकानों पर सीबीआई ने छापे भी मारे हैं।

नीरव मोदी के खिलाफ बी ED ने एक और केस दर्ज किया है। सीबीआई ने दोनों फरार आरोपियों (नीरव मोदी और मेहुल चौकसी) के खिलाफ इंटरपोल से संपर्क भी किया है। बता दें कि पीएनबी ने गुरुवार को बैंकिंग इंडस्ट्री की सबसे बड़ी धोखाधड़ी का खुलासा किया था। यह फ्रॉड 177.17 करोड़ डॉलर यानी 11,356 करोड़ रुपए का है। इस मामले की जांच एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) और सीबीआई कर रही हैं। मामले में नीरव मोदी मुख्य आरोपी है।

शुक्रवार को क्या एक्शन, क्या मिला?
– ED ने शुक्रवार को नीरव मोदी 11 शहरों में 35 नए ठिकानों पर छापा मारा। इस दौरान 549 करोड़ के हीरे और सोना जब्त किया गया। 29 अचल संपत्तियों को भी आइडेंटिफाई किया गया है। न्यूयॉर्क, लंदन, मकाऊ और बीजिंग में नीरव मोदी के शो रूम्स में किसी भी तरह की खरीदारी ना करने के निर्देश भी ED ने दिए।
– सीबीआई ने पीएनबी के 4 ऑफिशियल्स से पूछताछ की और 26 जगहों पर सर्च ऑपरेशन चलाया। इनमें गीतांजलि ग्रुप के मुंबई, पुणे, सूरत, जयपुर, हैदराबाद, कोयम्बटूर में 20 ठिकानों पर जांच की गई।

गुरुवार को छापे में क्या मिला था?
– ED ने गुरुवार को हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के 17 ठिकानों पर छापे मारकर मुंबई स्थित 6 प्रॉपर्टियां सील कर दीं। सर्च के दौरान 5100 करोड़ रुपए के स्टॉक्स, हीरे और सोने के जेवर जब्त किए गए। अबतक की कार्रवाई में 5649 करोड़ रुपए के हीरे-जवाहरात और सोना जब्त किया गया है।

नीरव के खिलाफ एक और केस
– पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के खिलाफ शुक्रवार को ईडी ने एक और केस दर्ज किया। चौकसी और नीरव के 11 राज्यों में मौजूद 35 ठिकानों पर ईडी और सीबीआई ने छापे मारे। इस दौरान 549 करोड़ रुपए के हीरे और सोना सीज किया गया। बरामदगी का आंकड़ा गुरुवार और शुक्रवार की कार्रवाई को मिलाकर है। इस दौरान 29 अचल संपत्तियों (immovable properties) का भी पता लगाया गया है।
– ईडी ने मेहुल चौकसी और नीरव मोदी को समन भेजकर 23 फरवरी को अपने मुंबई ऑफिस में पेश होने के आदेश दिए हैं।

PNB ने दर्ज कराई है एफआईआर
– PNB देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक- इस घोटाले में उसने शुक्रवार को मेहुल चौकसी के खिलाफ सीबीआई के पास एफआईआर दर्ज कराई। यह केस गीतांजलि ग्रुप की तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, गिली इंडिया और नक्षत्र के खिलाफ दर्ज कराए गए हैं।
– सीबीआई के मुताबिक, नया केस दर्ज करने के बाद ग्रुप के 26 ठिकानों पर छापे मारे गए। पुणे, मुंबई, सूरत, जयपुर और कोयम्बटूर वो जगहें हैं, जहां रेड की गईं।

शेट्टी के घर पहुंची सीबीआई
– इसके अलावा जांच एजेंसी की टीम मुंबई के मलाड में पीएनबी के डिप्टी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी के घर पहुंची। वह कई दिन से गायब हैं।
– सीबीआई की नई एफआईआर में 143 LoUs (लेटर ऑफ अंडर टेकिंग) और 224 फॉरेन लेटर ऑफ क्रेडिट शामिल हैं। जो 31 जनवरी को दर्ज एफआईआर के 150 LoUs से अलग है।

नीरव के अलावा किन पर केस?
– 280 करोड़ के फ्रॉड केस में ED ने नीरव मोदी की पत्नी एमी, भाई निशाल, मेहुल चीनूभाई चौकसी, डायमंड कंपनी के सभी पार्टनर्स, सोलर एक्सपर्ट्स, स्टेलर डायमंड और बैंक के दो अफसरों गोकुलनाथ शेट्टी (अब रिटायर्ड) और मनोज खरत के खिलाफ केस दर्ज किया है।

6 महीने में हालात सामान्य हो जाएंगे
– PNB चीफ सुनील मेहता ने शुक्रवार को इन्वेस्टर्स से बातचीत की। इसमें उन्होंने कहा- हम 6 महीने में हालात पर काबू कर लेंगे और सभी चीजें ठीक हो जाएंगी।
– इस दौरान मेहता ने माना कि बैंक इस वक्त कुछ परेशानियों से गुजर रहा है लेकिन हालात बिल्कुल सही तरीके से संभाल लिए जाएंगे। घोटाले में बैंक कर्मचारियों की मिलीभगत पर उन्होंने कहा- किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।