टीना अंबानी को भी पसंद कोटा-बूंदी शैली की पेंटिंग, जानिए क्या है खास

0
42

कोटा।  पिछले पांच सालों में कोटा-बूंदी शैली की बारहमासा पेंटिंग अंबानी परिवार की टीना अंबानी को रास आ रही है। विशेष रूप से हिन्दी महीने के अनुसार 12 महीनों की पेंटिंग खास है।

उनके लिए कोटा-बूंदी शैली के चित्रकार शेख मोहम्मद लुकमान पिछले पांच सालों से बना रहे हैं। अब तक चार बारहमासा यानी 48 पेंटिंग्स मुंबई भिजवा चुके हैं। इनके अलावा अंबानी पसंदीदा राग-रागिनी और अन्य पेंटिंग भी तैयार करवा चुकी हैं।

शेख लुकमान बताते हैं कि टीना अंबानी को कोटा-बूंदी शैली में बनी मिनिएचर पेंटिंग की खास पहचान है और उनसे जुड़ाव हो गया है। अपने कलेक्शन में इन पेंटिंग्स में खास रूचि है। उन्होंने बताया कि उनकी ये पेंटिंग पूरी तरह से मिनिएचर है और देशी व महंगे रंगों से इसे बनाते हैं। बारहमासा की ये चार बार पेंटिंग बन चुकी है। उन्हें हरियाली से जुड़ी अन्य पेंटिंग भी पंसद है।

नकल का भी चल रहा है दौर: लुकमान बताते हैं कि उनकी कोटा-बूंदी शैली की मिनिएचर हूबहू पेंटिंग लोग बनाने लगे हैं। उन्‍होंने बताया कि उनके रंग-संयोजन खास होते हैं। इसमें 100 से अधिक पुराने हैंडमेड पेपर पर यह पेंटिंग तैयार की जाती है। उन्‍होंने बताया कि इनमें गोल्ड कलर का भी वर्क किया जाएगा।

ये है बारहमासा
शेख मोहम्मद लुकमान ने बताया कि पेंटिंग मेंं हिन्दी महीने के अनुसार मौसम की स्थितियों की पेंटिंग बनाई है। इनमें चैत्र, बैसाख, जेठ, आषाढ़, श्रावण, भादवा, अश्विन, कार्तिक, अग्रहण, पौष, माघ और फाल्गुन नाम शामिल है।