पूरी तरह ब्रॉडगेज होगा रेलवे, 1 लाख 48 हजार करोड़ का आवंटन

0
29

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भारतीय रेलवे के लिए 1 लाख 48 हजार करोड़ रुपये का आवंटन करने का ऐलान किया है। रेलवे को लेकर सबसे बड़ा ऐलान करते हुए वित्त मंत्री ने बताया कि भारतीय रेलवे को पूरी तरह ब्रॉडगेज किया जाएगा। इसके अलावा पटरी और गेज बदलने के काम भी किया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि रेलवे को लेकर उनकी सरकार का पहला लक्ष्य सुरक्षा है।

जेटली ने कहा कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल बजट का बड़ा हिस्सा पटरी और गेज बदलने के काम में इस्तेमाल किया जाएगा। 5000 किलोमीटर लाइन के गेज परिवर्तन का काम चल रहा है। वित्त मंत्री ने बताया, ‘छोटी लाइनों को बड़ी लाइनों में बदलने काम पूरा किया जा रहा है। इस दिशा में पूरी तेजी से काम कर रहे हैं।’

उन्होंने बताया कि इस साल 700 नए रेल इंजन और 5160 नए कोच तैयार किए जाएंगे। सुरक्षा के इंतजामों पर बात करते हुए उन्होंने रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी लगाने की योजना का भी ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि इस साल में 600 रेलवे स्टेशनों को आधुनिक बनाने का काम किया जाएगा। सौंदर्यीकरण के अलावा स्टेशनों पर ऐस्केलेटर्स बनाने की भी योजना है।

वित्त मंत्री ने बताया कि रख-रखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। 3600 किमी ट्रैक का नवीकरण किया गया। 40000 करोड़ रुपये एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण पर खर्च किए जाएंगे। मुंबई रेलवे को शहर की लाइफलाइन बताते हुए मुंबई लोकल का दायरा 90 किलोमीटर बढ़ाने का ऐलान किया है।

वहीं मोदी सरकार की सबसे महत्वकांक्षी योजना बुलेट ट्रेन पर घोषणा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड बुलेट ट्रेन का ट्रैक बनाने का काम शुरू करने के लिए जो भी इस संबंध में जरूरी है उसे पूरी करेंगे।