सेंसेक्स 200 अंकों से ज्यादा टूटा, निफ्टी 11,050 के नीचे फिसला

0
24

नई दिल्ली। ग्लोबल मार्केट से मिले संकेतों कमजोर शुरुआत के बाद घरेलू शेयर बाजार में गिरावट बढ़ गई है। हैवीवेट टीसीएस, आईटीसी, इंफोसिस, आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, मारुति और एचडीएफसी में कमजोरी से बाजार में गिरावट गहरी हो गई है। सेंसेक्स 150 अंकों से ज्यादा टूट गया है। वहीं निफ्टी 11,100 के नीचे फिसल गया है। निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स को छोड़ सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं। फिलहाल सेंसेक्स 248 अंक गिरकर 36,035 अंक पर और निफ्टी 82 अंक टूटकर 11,048 अंक पर कारोबार कर रहा है।

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयर गिरे
– लार्जकैप शेयरों के साथ मिडकैप औऱ स्मॉलकैप शेयरों में भी गिरावट देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.33 फीसदी टूटा है।
– वहीं बीएसई के स्मॉलकैप इंडेक्स में 0.63 फीसदी की कमजोरी आई है।

ऑटो को छोड़ सभी सेक्टोरल इंडेक्स टूटे
– सेक्टोरल इंडेक्स में निफ्टी ऑटो इंडेक्स में सबसे ज्यादा तेजी 0.28 फीसदी की तेजी आई है। बैंक निफ्टी इंडेक्स 0.50 फीसदी टूटकर कारोबार कर रहा है। इसके अलावा निफ्टी आईटी में 0.21 फीसदी, निफ्टी एफएमसीजी में 0.01 फीसदी, निफ्टी मेटल में 0.62 फीसदी और निफ्टी फार्मा में 0.47 फीसदी की कमजोरी आई है।
– हालांकि निफ्टी रियल्टी इंडेक्स में 0.03 फीसदी की हल्की बढ़त दिख रही है।
– वहीं बीएसई कैपिटल गुड्स और पावर इंडेक्स में भी गिरावट का रुख है, जबकि कंज्यूमर डुरेबल्स और ऑयल एंड गैस इंडेक्स में तेजी नजर आ रही है।

TCS फिर बनी देश की मोस्ट वैल्युड कंपनी, RIL को छोड़ा पीछे
– देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस एक बार फिर देश की मोस्ट वैल्युड कंपनी बन गई है। सोमवार के कारोबार में टीसीएस ने रिलायंस इंडस्ट्रीज को पीछे छोड़ते हुए यह मुकाम हासिल की।
– टीसीएस का मार्केट 6.11 लाख करोड़ रुपए रहा। वहीं आरआईएल का मार्केट कैप 6.10 लाख करोड़ रुपए रहा। मार्केट कैप के हिसाब से टीसीएस देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई।

एशियाई बाजारों में कमजोरी
अमेरिकी बाजारों में गिरावट से मंगलवार को एशियाई बाजारों में कमजोरी देखने को मिल रही है। हालांकि सिंगापुर का एसजीएक्स निफ्टी इंडेक्स 0.24 फीसदी की मजबूती के साथ 10,940 अंक पर कारोबार कर रहा है। जापान का बाजार निक्केई 152 अंक की गिरावट के साथ 23,447 अंक पर कारोबार कर रहा है। हैंग सेंग 48 अंक गिरकर 32,919 अंक पर कारोबार कर रहा है।
कोरियाई बाजार का इंडेक्स कोस्पी 0.91 फीसदी की बढ़त के साथ 2598 अंक पर कारोबार कर रहा है, जबकि ताइवान इंडेक्स 59 अंक टूटकर 11,162 अंक पर कारोबार कर रहा है। शंघाई कम्पोजिट में 0.37 फीसदी की गिरावट है। वहीं स्ट्रेट्स टाइम्स में 0.09 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है।

FII और डीआईआई रहे खरीददार
– सोमवार के कारोबार में डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (डीआईआई) के मुकाबले फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (एफआईआई) ने भारतीय शेयर बाजार में ज्यादा खरीददारी की। डीआईआई ने जहां 90.08 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। वहीं एफआईआई ने 291.86 करोड़ रुपए बाजार में निवेश किए।

अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद
– सोमवार को अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। ब्याज दरें और महंगाई बढ़ने के डर से बाजार पर दबाव दिखा। सोमवार के कारोबार में डाओ जोंस 177 अंक गिरावट के साथ 26,439 अंक पर बंद हुआ। नैस्डैक 39 अंक गिरकर 7,466 अंक पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 19 अंक लुढ़ककर 2,854 अंक पर बंद हुआ।
– फेडरल रिजर्व की दो दिन की बैठक आज से शुरू होगी। वहीं अमेरिका में बॉन्ड यील्ड 2014 के बाद सबसे उच्च स्तर पर पहुंचे हैं। साथ ही कई हफ्तों के बाद डॉलर में मजबूती लौटती दिखाई दी है। इस बीच गोल्डमैन सैक्स ने अमेरिकी बाजार में बड़ी गिरावट की आशंका जताई है।