बंद से कोटा में 200 करोड़ का कारोबार प्रभावित

0
34

 कोटा शहर तथा झालरापाटन में दुकानदार व बंद समर्थक आमने-सामने

कोटा। बूंदी स्थित मानधाता छतरी मामले में विश्व हिंदू परिषद की ओर से आहूत हाड़ौती बंद सफल रहा। कोटा बंद से 200 करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ है। बूंदी व बारां में बंद शांतिपूर्वक रहा। कोटा शहर तथा झालरापाटन में दुकानें बंद कराने को लेकर हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं की व्यापारियों से हल्की झड़प हुई।

विहिप की मांग है कि बूंदी कलेक्टर व कोटा आईजी को हटाया जाए। बंद के दौरान कोटा शहर में कई जगह हल्की झड़पें हुई। झालरापाटन में बाजार बंद कराने को लेकर विवाद हो गया। वहां दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए। कोटा शहर में स्टेशन स्थित एक गली में भी दुकानें बंद कराने को लेकर विवाद हुआ।

दोनों पक्षों के बीच कहासुनी और हाथापाई तक हो गई। छावनी में भी एक बाजार बंद कराने को लेकर विवाद हो गया। बाद में पुलिस ने मामला शांत कराया। अनंतपुरा, स्टेशन, सब्जीमंडी, दादाबाड़ी, महावीर नगर में मामूली झड़पें हुईं। हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पूरे दिन अलग-अलग क्षेत्रों में घूमकर दुकानें बंद कराई।

हालांकि ज्यादातर बाजार स्वतः स्फूर्त बंद थे। पेट्रोल पंप 2 घंटे ही बंद रहे। दोपहर 1 बजे पेट्रोल पंप खुल गए। पुलिस दिनभर हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं के पीछे दौड़ती रही। नगरीय परिवहन के ज्यादातर साधन बंद रहे, जो चले उन्होंने भी मनमाना किराया वसूला। चिकित्सा सेवाओं को बंद से पूरी तरह से मुक्त रखा गया था। प्राइवेट स्कूल पूरी तरह बंद रहे।