4 साल से विकास नहीं, अब एक साल में 410 करोड़ खर्च करेगी सरकार

0
32

कोटा। नगर विकास न्यास की ओर से सरकार का कार्यकाल पूरा होने से पहले करीब 410.71 करोड़ रुपए की योजनाओं को पूरा करने के लिए मशक्कत की जा रही है।

न्यास की ओर से हर सप्ताह बुधवार को बैठक लेकर प्रगति की समीक्षा की जा रही है। सूत्रों के अनुसार मौजूदा सरकार के कार्यकाल में परियोजनाओं का उद्घाटन करने के दवाब के चलते एेसा किया जा रहा है।

न्यास अध्यक्ष आर.के. मेहता और सचिव ए.एल. वैष्णव हर योजना की समीक्षा कर रहे हैं। इनमें झालीपुरा से गांवड़ी गामछ तक 14.2 किमी लम्बा 2लेन बाइपास निर्माण मार्च 2018 तक पूरा हो जाएगा।

इसी तरह रंगपुर रोड पर 850 मीटर लम्बर रेलवे ओवरब्रिज और दानबाड़ी से केशवपुरा सर्किल तक 1500 मीटर फोरलेन फ्लाईओवर प्रमुख योजनाएं हैं। इस तरह बैराज के समानान्तर 1200 मीटर लम्बा पुल भी नवम्बर 2018 पहले से पूरा होगा।

20 नई सौगात का दिखाया सपना
नगर विकास न्यास ने शहर को साल 2018 में करोड़ों रुपए खर्च करके करीब 20 नई सौगातों का कार्य शुरू करने का सपना दिखाया है। इन विकास और सौंदर्यन के कार्यों पर करीब 400 करोड़ से ज्यादा राशि खर्च करना प्रस्तावित है।

प्रस्तावित कार्यों में एरोड्राम सर्किल पर यातायात समस्या से निजात के लिए घोड़े वाले चौराहे से डीसीएम रोड तक फ्लाईओवर का निर्माण्, शिल्पग्राम उदयपुर की तर्ज पर डेजर्ट पार्क विकास, भीमगंजमंडी थाने से रेलवे स्टेशन तक करीब 840 मीटर लम्बा 16 स्पान के फ्लाईओवर का निर्माण महत्वपूर्ण हैं।

इसके अलावा सीबी गार्ड के पास स्थित क्रिकेट एवं फुटबाल स्टेडियम में स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स का निर्माण भी प्र्रस्तावित है, इस कार्य पर कुल 83.94 करोड़ खर्च होंगे, पहले चरण में 31.88 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

कोटा बैराज के समान्तर पुल से नयापुरा पुल के बीच चम्बल नदी में पीपीपी मोड पर रोप वे का निर्माण करने की योजना बनाई गई है। कुन्हाड़ी में आधुनिक श्मशान गृह का निर्माण किया जाएगा।