मोबाइल इंटरनेट स्पीड में बहुत पीछे है भारत

0
25

नई दिल्ली। मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में दुनिया में भारत का स्थान 109वां है तथा फिक्स ब्रॉडबैंड के मामले में 76वां है, जबकि इसमें 15 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। ऊकला (Ookla) के नवंबर के स्पीडटेस्ट वैश्विक सूचकांक से यह जानकारी मिली है। 

सोमवार को यहां जारी एक बयान में कहा गया कि 2017 की शुरुआत में, भारत में औसत मोबाइल डाउनलोड स्पीड 7.65 एमबीपीएस था, लेकिन साल के अंत तक यह बढ़कर 8.80 फीसदी हो गया, जोकि 15 फीसदी की बढ़ोतरी है।’
बयान में कहा गया, ‘हालांकि मोबाइल की स्पीड में मामूली वृद्धि हुई है, लेकिन फिक्स्ड ब्रॉडबैंड की स्पीड में नाटकीय वृद्धि हुई है। 

इंटरनेट स्पीड के मामले में भारत से आगे हैं ये देश-
नेपाल – 99वां स्थान
नाइजीरिया – 102वां स्थान
सूडान – 103वां स्थान
इंडोनेशिया- 106वां स्थान
श्रीलंका – 107वां स्थान

सबसे तेज मोबाइल इटरनेट वाले 5 देश-
नार्वे – पहला स्थान
नीदरलैंड दूसरा – स्थान
आइसलैंड तीसरा – स्थान
सिंगापुर चौथा – स्थान
माल्टा पांचवां – स्थान

जनवरी में फिक्स्ड ब्रॉडबैंड की औसत स्पीड 12.12 एमबीपीएस थी, जबकि नवंबर में बढ़कर यह 18.82 एमबीपीएस हो गई, जो कि करीब 50 फीसदी की छलांग है।

‘नवंबर में दुनिया में सबसे ज्यादा मोबाइल स्पीड नॉर्वे में दर्ज की गई, जो 62.66 एमबीपीएस रही। फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में सिंगापुर सबसे आगे रहा, जहां 153.85 एमबीपीएस की औसत डाउनलोड स्पीड दर्ज की गई।

ऊकला के सह-संस्थापक और महाप्रबंधक डोग सटेल्स ने कहा, ‘भारत में मोबाइल और फिक्स्ड ब्रॉडबैंड दोनों की स्पीड में तेजी से सुधार हो रहा है। यह सभी भारतीय ग्राहकों के लिए अच्छी खबर है, चाहे वे किसी भी ऑपरेटर का कोई भी प्लान क्यों न लें। हालांकि भारत को स्पीड के मामले में दुनिया के शीर्ष देशों तक पहुंचने में काफी समय लगेगा।’